22 साल बाद घर लौटा लापता बेटा, माता-पिता सहित गांव में खुशी का माहौल

लापताबेंगाबाद (गिरिडीह) : बेंगाबाद के सुदूरवर्ती गांव बन्दगाड़ी से विगत 22 वर्ष पूर्व घर से लापता हुआ युवक सोमेर सिंह शुक्रवार को अपने घर पहुंचा. उसके घर वापस लौटने से पूरे गांव में हर्ष का माहौल बन गया. वहीं युवक सोमेर सिंह को देखने पूरे गांव के लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी. वहीं सोमेर के बुढ़े माता पिता को जैसे नई जिंदगी मिल गई.




जानकारी के अनुसार आज से 22 साल पहले जानकी सिंह के बेटे सोमेर सिंह अचानक घर से लापता हो गया था. उसके लापता होने के बाद परिजनों और रिश्तेदारों ने काफी तालाश की पर सोमेर नहीं मिला. वहीं 22 वर्ष के बाद आज जब वह ऑटो से अपने गांव में उतरा तो गांव के लोगों ने एक बार तो उसे पहचानने से इनकार कर दिया. पर कहते हैं न कि मां की आंखे पभी धोखा नहीं खाती. मां तो मां होती है. सोमेर की मां की बुढ़ी आंखों ने उसे पहचान लिया और उसके सीने से लिपट कर रोने लगी.

इधर युवक सोमेर सिंह ने कहा कि वह नई मुम्बई में पाइप लाइन में काम करता है. वह अपने घर का पता भूल गया था. उसके साथ काम कर रहे गढ़वा के साथी की मदद से वह आज अपने घर तक पहुंच सका है.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat