इंडोनेशिया में ज्‍वालामुखी विस्‍फोट के कारण 38 अंतरराष्‍ट्रीय उड़ानें रद्द, हजारों यात्री फंसे

ज्वालामुखी में विस्फोटजकार्ता : इंडोनेशिया में माउंट आगुंग ज्वालामुखी में विस्फोट के कारण निकले राख के चलते रिसॉर्ट द्वीप बाली स्थित अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा को शुक्रवार को बंद कर दिया गया.  पिछले साल के अंत से खामोश माउंट आगुंग ज्वालामुखी फिर से सक्रिय हो गया है.  आपदा राहत एजेंसी ने एक वक्तव्य में कहा कि हवाईअड्डा शुक्रवार को स्थानीय समयानुसार शाम सात बजे तक बंद रहेगा. इसके कारण 38 अंतरराष्ट्रीय उड़ानें और 10 घरेलू उड़ानों सहित कुल 48 उड़ानें रद्द कर दी गयी है, जिससे 8,334 यात्री प्रभावित होंगे. एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो पुर्वानुग्रोहो ने कहा कि ज्वालामुखी में विस्फोट के कारण हवा में 2,500 मीटर (8,200 फीट) राख का गुब्बारा उठा और माउंट आगुंग के मुहाने पर लाल लौ दिखाई दे रही थी.

इसे भी पढ़ें : गुमला: छेड़खानी पड़ी लड़के को महंगी, पिटाई के साथ मिली मां-बहन की गालियां

ज्वालामुखी के करीब रहने वाले हजारों लोगों को सुरक्षित स्‍थानों पर भेजा गया  




बाली के उत्तर पूर्व में स्थित माउंट आगुंग में पिछले साल के अंत से विभिन्न तीव्रताओं के साथ विस्फोट हुआ है और दिसंबर में भी हवाईअड्डे को एक अवधि के लिए बंद कर दिया गया था और ज्वालामुखी के करीब रहने वाले हजारों लोगों को निकाल कर सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया था. अधिकारी स्थिति पर निगरानी बनाये हुए हैं, लेकिन ज्वालामुखी को लेकर अबतक कोई चेतावनी स्तर नहीं जारी किया गया है. एयरलाइंस ज्वालामुखी से निकले राख के कारण विमानों को उड़ाने से बचती है, क्योंकि यह विमान इंजन, ईंधन और कूलिंग प्रणाली को नुकसान पहुंचा सकती है और दृश्यता में भी बाधा डाल सकती है.  नुग्रोहो ने कहा कि एयर एशिया, जेट स्टार, क्वांटास और वर्जिन एयरलाइंस उन विमान कंपनियों में शामिल हैं, जिन्होंने अपनी उड़ानें रद्द कर दी है.

इसे भी पढ़ें :  आजम खान ने दिया विवादित बयान- योगी तोड़ें ताजमहल, मुस्लिम भी करेंगे मदद

इसे भी पढ़ें : पुलिस भर्ती में हाइट बढ़ाने के लिए लागाई मेहंदी की मोटी परत, खुला भेद, पहुंचा जेल





WhatsApp chat Live Chat