पारा शिक्षकों के आंदोलन के उलट शिक्षा बांट रहा एक पारा शिक्षक, कहा- बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर नहीं लड़ सकते अपनी लड़ाई

उलटआदित्य पांडेय

सरिया (गिरिडीह) : एक तरफ जहां पूरे राज्य के पारा शिक्षकों का आंदोलन चरम पर है, अपनी मांगों को लेकर लोग आर-पार की लड़ाई में चरणबद्ध आंदोलन कर रहे हैं. जिसके कारण उत्क्रमित विद्यालयों में ताले लटके हुए हैं, वहीं दूसरी तरफ सरिया के उत्क्रमित प्राथमिक विद्यालय कोवड़िया टोला में कार्यरत दो पारा शिक्षक नित्य अपने विद्यालय में योगदान दे रहे हैं व छात्रों को पढ़ा रहे हैं.




उक्त विद्यालय में कार्यरत शिवशंकर रूपांशु व विजय साव का कहना है कि हम पारा शिक्षक संघ के लड़ाइयों के साथ हैं लेकिन छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करके अपनी भविष्य की चिंता में हड़ताल करना और बच्चों को शिक्षा से वंचित करना अपराध होगा, इसलिए हम बच्चों को पढ़ाने की दायित्व को समझते हुए बच्चों को पढ़ाने के दायित्व का निर्वहन कर रहे हैं. इन्होंने बताया कि सरकार बच्चों के लिए शिक्षा सेतु जैसे महत्वाकांक्षी योजना चला रही है, ताकि बच्चों को बेहतर तालीम दी जा सके. उसी योजना को साकार बनाने में अपनी भूमिका निभा रहा हू. दोनों पारा शिक्षकों ने संघ के द्वारा घोषित आंदोलनों में कभी शरीक नहीं होने की बात भी बताई है. इस विद्यालय के रसोइया भी हड़ताल से दूर होकर बच्चों के मध्याह्न भोजन बनाने में लगी है.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat