इस नेता ने कभी लिखी थी लालू चालीसा, आज देता फिरता है ताने

Aanand paswan who wrote lalu chalisa राजनीति: लालू यादव की तबियत दिन ब दिन बिगड़ती जा रही है. ऐसे हालातों में पता चलता है कि कौन आपका अपना है और कौन पराया? जब लालू यादव राजनीति के चरम पर थे, तब उनकी जिन्दगी में ब्रह्मादेव आनंद पासवान नाम का शख्स आया था, जिसने उस समय लालू यादव के नाम चालीसा लिखी थी. लेकिन अब जब लालू यादव बीमार हैं, तो यही शख्स कहता फिर रहा है कि जो जैसा करता है वैसा भरता है.

1990 के दशक में आनंद पासवान ने लालू यादव के नाम पर लालू चालीसा लिखा था. इसके बाद वो लालू के पसंदीदा लोगों में शामिल हो गये थे. उनके जनसभाओं में आनंद मुख्य आकर्षण हुआ करते थे. इतना ही नहीं, लालू यादव ने उन्हें राज्यसभा सदस्य भी बना दिया था.




लेकिन जब सदस्यता खत्म हुई और अगली बार उन्हें राज्यसभा नहीं भेजा गया तो उनका लालू से मोहभंग हो गया. इसके बाद उन्होंने लालू का साथ छोड़ कांग्रेस का दामन थामा. लेकिन वहां उन्हें ज्यादा तवज्जो नहीं दिया गया. इसके बाद उन्होंने अपनी अलग पार्टी बना ली.

लालू के बारे में पूछे जाने पर आनंद ने बताया कि वो आज भी लालू यादव के संपर्क में हैं. उनसे अक्सर हालचाल लेते रहते हैं. बता दें कि आनंद की अपनी पार्टी है वोटर्स पार्टी इंटरनेशनल. अंतरराष्ट्रीय मामलों को लेकर आनंद की पार्टी देशभर में फैलने के फिराक में है. वो हर पार्टी को खुद में शामिल करना चाहते हैं, सिवाय कांग्रेस और बीजेपी के.





WhatsApp chat Live Chat