BREAKING

रांची : मंत्री सीपी सिंह ने अमरनाथ यात्रियों को किया रवाना, देश में उन्नती और शांति की कामना की

AMARNATH YATRA CP SINGHरांची : अमरनाथ यात्रा का आज दूसरा दिन है. यात्रा के दूसरे दिन भी मूसलाधार बारिश और फिसलन के कारण पारंपरिक बालटाल और पहलगाम ट्रैक से यात्रा आग नहीं बढ़ पाई है. दोनों जगहों पर 20 हजार से अधिक यात्री फंसे हुए हैं. वहीं लगतार मौसम खराब रहने की वजह से करीब 4000 यात्री बीना दर्शन किए वापस लौट गए हैं. हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं  की गई है.

हिमालय के 3880 मीटर की उंचाई पर स्थित पवित्र अमरनाथ गुफा की यात्रा के लिए झारखंड की राजधानी रांची से भी करीब सौ की संख्या में अमरनाथ यात्रा के लिये श्रद्धालु गरीब रथ ट्रेन से रवाना हुए. इस मौके पर नगर विकास मंत्री सी पी सिंह ने रांची रेलवे स्टेशन पहुंच कर सभी यात्रियों को तिरंगा झंडे के साथ रवाना किया. मंत्री सी पी सिंह ने इस मौके पर कहा कि केन्द्र सरकार ने सभी अमरनाथ यात्रियों की सुरक्षा के लिये बेहतर तैयारी कर रखी है. उन्होंने बाबा बर्फानी से देश में उन्नती और समाज में शांति की कामना की . अमरनाथ यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालु भी इस अवसर पर काफी उत्साहित दिखे.



बता दें कि यात्रा के दूसरे दिन करीब 1287 श्रद्धालुओं ने पवित्र गुफा बाबा बर्फानी के दर्शन किए. वहीं पिछले दो दिनों में 2294 शिवभक्तों ने दर्शन किए. अमरनाथ तीर्थयात्रियों को ले जाने वाले सभी वाहनों की आवाजाही पर नजर रखने के लिए उनमें ट्रैकिंग चिप लगाईं जाएगी. यात्रा मार्ग से वाया पहलगाम और बालटाल पर सीआरपीएफ और राज्य पुलिस के 40 हजार से ज्यादा सशस्त्र जवानों को बख्तरबंद गाड़ियों के साथ तैनात किया गया है. साथ ही इस बार सीसीटीवी कैमरों और ड्रोन का भी काफी इस्तेमाल हो रहा है. यात्रा मार्ग पर आतंकी कुछ गड़बड़ी न कर पाएं इसके लिए सेना की टुकड़ियों को भी तैनात किया गया है.

आज बाबा बर्फानी के दर्शन करेगा पहला जत्था, पिछली बार हुई थी 100 मौतें

 एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक तीर्थयात्रियों को ले जाने के लिए हर वाहन में आरएफआईडी टैग लगाए गए हैं. जिन पर यहां बनाए गए कंट्रोल रूम से नजर रखी जाएगी. यात्रा मार्ग पर सादे कपड़ों में बड़ी संख्या में सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है. साथ ही सुरक्षा शिविरों को अलर्ट पर रखा गया है.



WhatsApp chat Live Chat