BREAKING

शाह का झारखंड दौरा सांगठनिक और राजनीतिक लिहाज से महत्वपूर्ण, 25 X 4 फ़ॉर्मूले पर आगे बढ़ेगी बीजेपी

amit shah social media 5 different types meetingरांची : बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का एक दिवसीय झारखंड दौरा सांगठनिक और राजनीतिक लिहाज से बेहद महत्वपूर्ण रहा. 5 अलग-अलग तरह की बैठकों में राज्य के सभी 14 लोकसभा सीट जीतने का मुद्दा इस दौरा के केन्द्र बिंदु रहा. झारखंड बीजेपी राज्य में 25 × 4 के फार्मूले पर आगे बढ़ेगी.

झारखंड BJP ने मिशन 2019 में जीत सुनिश्चित करने के लिए 25 × 24 का फार्मूला ईजाद किया है. मतलब BJP ने 25 लाख सदस्यों वाली फौज के साथ आगामी चुनाव के मैदान में उतरने की रणनीति बनाई है. बीजेपी का लक्ष्य ऐसे 25 लाख सदस्यों के घर से 4-4 वोट हासिल कर एक करोड़ वोट पाना होगा. BJP का मानना है कि इस लक्ष्य को हासिल करने के बाद कोई भी दल, कोई भी गठबंधन उनके सामने नहीं टिक पाएगा.

अमित शाह के दौरे पर तिलमिलाया विपक्ष, कहा- आदवासियों को आए हैं ठगने

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के एक दिवसीय झारखंड दौरे के दौरान कुल 5 बैठकों में सांगठनिक और राजनीतिक मोर्चे पर आगे बढ़ने की रणनीति बनाई गई. बात चाहे आदिवासी समाज के साथ हुई बैठक की करें या बंद कमरे में लोकसभा चुनाव के मद्देनजर बनाई गई टोली की. हर एक बैठक में 19 तरह के दिए गए टास्क और इस टास्क के साथ भविष्य में चुनाव जीतने का मुद्दा छाया रहा.




सरायकेला : ड्रीम प्रोजेक्ट दम तोड़ते हुए, 6 साल से बन रही है, बनते ही उखड़ जा रही है सड़क

झारखंड बीजेपी ने विपक्ष की राजनीति को परास्त करने के लिए ठोस रणनीति बनाई है. BJP विपक्ष के राजनीतिक हमलों पर चुप बैठने के बजाय काउंटर अटैक करेगी. वैसे बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं के अनुसार यह दल की स्वतंत्रता है और हर एक दल अपनी रणनीति के तहत राजनीति के मैदान में होगी.

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का झारखंड दौरा संगठन में नई ऊर्जा का संचार कर गया. अमित शाह साल 2019 के चुनाव को लेकर राजनीति की बिसात पर अपनी चाल चल गए. जिसका असर आने वाले समय में देखने को मिलेगा.

बता दें कि अलग-अलग राज्यों का दौरा कर रहे अमित शाह फिलहाल अपने एक दिवसीय दौरे पर पटना पहुंच चुके हैं. एयरपोर्ट पर कार्यकर्ताओं ने उनका भव्य स्वागत किया और थोड़ी देर में वह राजकीय अतिथिशाला में नाश्ते पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ मुलाकात करेंगे. यहां पर कयास यह भी लगाए जा रहे हैं कि इस मुलाकात के दौरान दोनों नेताओं के बीच लोकसभा चुनाव को देखते हुए सीट शेयरिंग पर भी बात होगी.



WhatsApp chat Live Chat