NEWS11

बड़े हादसे को निमंत्रण दे रहा पुल से महज चार फीट ऊंचा 11 हजार वोल्ट का विद्युत तार

गिरिडीह : पांडेयडीह पंचायत में स्पेशल डिवीजन विभाग की ओर से पुल बनाया जा रहा है. इस पुल से मात्र 4 फीट की ऊंचाई पर 11 हज़ार वोल्ट का विद्युत तार पार हुआ है, जो हादसे का सबब बन सकता है. विद्युत विभाग के लापरवाही का खामियाजा आम जनता को भुगतना पड़ सकता है. बिजली के तार को ऊंचा करने को लेकर पांडेयडीह के ग्रामीणों ने कई बार विद्युत विभाग को आवेदन भी दिया, परंतु इस दिशा में कोई पहल नहीं की गई. पिछले दिनों तार की चपेट में आने से एक मवेशी की भी मौत हो चुकी है. विद्युत विभाग के खिलाफ यहां के लोग आंदोलन करने के मूड में हैं. रविवार को पांडेयडीह के लोग निर्माणाधीन पुल के निकट एकत्रित हुए और विद्युत विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. ग्रामीणों ने कहा कि यहां करंट की चपेट में आने से पूर्व में एक मवेशी की भी मौत हो चुकी है. अगर तार ऊंचा नहीं किया गया तो एक बड़ा हादसा हो सकता है .

आंदोलन करने की तैयारी में जेवीएम

इस मामले को लेकर झारखंड विकास मोर्चा आंदोलन की तैयारी में है. इस बाबत झाविमो नेता एजाज अहमद सोनू ने कहा कि विद्युत विभाग स्पेशल डिविजन विभाग का खामियाजा आम लोगों को भुगतना पड़ सकता है. इस मामले को लेकर आंदोलन किया जाएगा.

18 जून को होगा बिजली ऑफिस का घेराव

इधर इस बाबत स्थानीय मुखिया दिलीप वर्मा ने कहा कि विद्युत तार मामले को लेकर बिजली विभाग व स्पेशल डिविजन विभाग को भी कई बार सूचित किया गया, परंतु किसी ने भी इस और ध्यान नहीं दिया. उन्होंने कहा कि इस मामले को लेकर 18 तारीख को विद्युत विभाग कार्यालय का घेराव किया जाएगा .

बहरहाल अगर जल्द ही बिजली प्रवाहित तार को ऊंचा नहीं किया गया तो पांडेयडीह में किसी दिन भी एक बड़ा हादसा हो सकता है.

Related posts

ओम प्रकाश माथुर के आगमन के साथ ही बीजेपी में बढ़ी सांगठनिक और राजनीतिक सक्रियता

Rajesh

7 माह से नहीं मिल रहा राशन, लाभुकों ने की बैठक, 2 सितंबर से अनिश्चितकालीन धरना का निर्णय  

Rajesh

101 नगाड़ों के साथ जयंती पर याद किये गये डॉ रामदयाल मुंडा

Pawan

ललीता देवी हत्‍याकांड का खुलासा, भैसूर समेत दो गिरफ्तार

Rajesh

रंगबाज पुलिस वाले, दिनदहाड़े सड़कों पर कर रहे अवैध वसूली, वीडियो वायरल

Rajesh

बीजेपी के चुनाव प्रभारी ओम प्रकाश माथुर पहुंचे रांची, कार्यकर्ताओं ने ढोल-नगाड़े के साथ किया स्वागत

Pawan
WhatsApp chat Live Chat