पलामू: पिता खुद ASI, तीन बेटे एक ही दिन बने दरोगा

Asi father 3 son became si on same dayमेदिनीनगर (पलामू): jharkhand farmers हो भी क्यों ना? यहां एक पिता के तीनों बेटे एक ही दिन दरोगा बन गये. बाराटोला के निवासी पुलिस में एएसआइ की नौकरी करने वाले अगस्त दुबे को उम्मीद भी नहीं रही होगी कि उनके तीनों बेटे एक-साथ ऐसी कामयाबी हासिल करेंगे. उनके तीनों बच्चे एक ही परीक्षा से एक साथ दारोगा बन गए.

झामुमो ने मनाया हूल दिवस, कहा- सिदो-कान्‍हू से लें प्रेरणा




सदर प्रखंड क्षेत्र के बारालोटा गांव केजीएलए कॉलेज क्षेत्र निवासी अगस्त दुबे के पुत्र नितेश दुबे, बिकेश दुबे व ऋषिकेश दुबे ने एक साथ पुलिस सब इंस्पेक्टर की परीक्षा में सफलता पाई. नितेश व बिकेश ने बी-टेक किया है. नितेश कोलकाता के नेताजी सुभाष चंद्र बोस इंजीनियरिंग कॉलेज से बी-टेक करने के बाद प्राइवेट जॉब में थे. बिकेश हजारीबाग विनोबा भावे विश्वविद्यालय से बी-टेक कर घर पर प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर रहे थे. तीसरा छोटा भाई ऋषिकेश जीएलए कॉलेज से बीएससी पास करने के बाद घर पर तैयारी कर रहा था.

विक्षिप्‍त ने एक व्यक्ति को मारकर गंभीर रूप से किया घायल

इंजीनियरिंग छोड़ कर दारोगा परीक्षा में जाने के सवाल पर नितेश ने बताया कि सरकारी नौकरी में भविष्य सुरक्षित है. माता-पिता और दूसरे अभिभावक भी सरकारी नौकरी में जाने को प्रेरित करते थे. बिकेश की इच्छा आगे और बेहतर पद के लिए तैयारी की है. ऋषिकेश ने कहा कि पुलिस की नौकरी में जाकर समाज सेवा की इच्छा है. आगे और बेहतर करने के लिए कठिन परिश्रम जारी रहेगा.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat