रांची: निर्मल ह्रदय पहुंचे बंधू तिर्की, कहा- सरकार बेवजह कर रही मिशनरी चैरिटी को बदनाम

bandhu tirkey reached nirmal hriday sansthan रांची: बच्चा बेचने के इल्जाम से घिरे मिशनरी चैरिटी होम निर्मल ह्रदय को लेकर रोज चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं. इस संस्थान पर इल्जाम लगा है कि पहले ये संस्थान अविवाहित गर्भवती लड़कियों को संस्थान में पनाह देती है. फिर बच्चे होने पर उन्हें बेच देती है. इस खुलासे के बाद एक के बाद एक संस्थान के काले कारनामे सामने आने लगे. लेकिन अब राज्य के कुछ राजनेता इस संस्थान के बचाव में उतर आए हैं. कल झामुमो के बंधू तिर्की प्रदीप बलमुचू के साथ संस्थान गये थे.

रांची: मुख्यमंत्री रघुवर दास की जान को खतरा, आए माओवादियों के निशाने पर

वहां से निकल कर बंधू तिर्की ने सरकार पर संस्थान को बदनाम करने का आरोप लगाया. पूर्व मंत्री बंधु तिर्की व कांग्रेस नेता प्रदीप बलमुचू शुक्रवार को निर्मल हृदय आश्रम पहुंचे थे. वहां पहुंचकर सिस्टर मेरी से बच्चा प्रकरण पर बातचीत की. उन्होंने पूरी घटना की जानकारी लेने के बाद न्यायिक जांच कराने का आश्वासन दिया.




कोडरमा: बैट्री-तार-बल्ब-पेन से खेल रहे थे बच्चे, विस्फोट में हुए घायल

सिस्टर ने उन्हें बताया कि मिशनरीज ऑफ चैरिटी के कुछ कर्मियों की वजह से पूरे संस्था को बदनाम किया जा रहा है. नामकुम स्थित शेल्टर होम में रखी गई दो गर्भवती पीड़िताओं ने दो बच्चों को जन्म दिया है. इनमें एक बच्चे की मृत्यु हो गई. दूसरा जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ है. वह फिलहाल नामकुम के ही शेल्टर होम में रखे गए हैं.

रांची: महंगाई से त्रस्त हुए लोग, दाल से लेकर चीनी तक की बढ़ी कीमतें

बता दें कि बच्चा बिक्री का मामला सामने आने के बाद निर्मल हृदय में रह रहीं 13 नाबालिगों को नामकुम के शेल्टर होम में रखवाया गया था. जिनमें से दो गर्भवती पीड़िताओं ने बच्चों को जन्म दिया.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat