BREAKING

विधायकों की खरीद-फरोख्त का मामला पकड़ा तूल, बिरंची नारायण ने बाबूलाल को बताया दिमागी रूप से कमजोर

bokaroबोकारो : जेवीएम के विधायकों की खरीद-फरोख्त का मामला काफी तूल पकड़ रहा है. बाबूलाल मरांडी ने जिस तरह से बीजेपी के बोकारो विधायक पर आरोप लगाया है. उसका जवाब देते हुए आज बोकारो के विधायक ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि‍ बाबूलाल मरांडी की बातें आधारहीन एवं तर्क से परे है.

बोकारो विधायक बिरंची नारायण ने कहा कि झारखंड के प्रथम मुख्यमंत्री दिमागी रूप से कमजोर हो गए हैं और मानसिक दिवालियेपन के शिकार हो गये हैं. बाबूलाल मरांडी को बोकारो विधायक ने चुनौती देते हुए कहा कि जो जाली पत्र राज्यपाल को सौंप कर जालसाजी की है ये प्रमाणित करें. नहीं तो मैं झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री पर दो मुकदमा करूंगा. एक तो आपराधिक मुकदमा और दूसरा 20 करोड़ रुपये का मानहानि का दावा करेंगे.

बाबूलाल का कांके में इलाज करवाएं प्रदीप यादव

साथ ही विधायक ने यह भी कहा कि जेवीएम के विधायक प्रदीप यादव से निवेदन करता हूं बाबूलाल मरांडी का कांके में इलाज करवाएं. अगर प्रदीप यादव इलाज नहीं करवा सकते हैं तो मुझसे कहें. मैं अपने वेतन से उनका इलाज करवाऊंगा. उन्‍होंने यह भी कहा कि अगर बाबूलाल साबित कर दें एक करोड़ रुपये में अमर बाउरी को खरीदा है या फिर दिया है तो मैं राजनीति से सन्यास ले लूंगा.



बाबूलाल मरांडी ने राज्‍यपाल को सौंपा था ज्ञापन

बताते चलें कि पिछले दिनों बाबूलाल मरांडी ने राज्यपाल को ज्ञापन सौंपते हुए जेवीएम विधायक की खरीद-फरोख्त का आरोप बीजेपी पर लगाया था. बोकारो के विधायक बीजेपी विधायक बिरंची नारायण पर अमर बाउरी को 1करोड़ रुपए देने का आरोप लगाया था. ऐसे में अब यह मामला काफी गरमा गया है. राजनीतिक बयानबाजी के साथ-साथ कोर्ट पहुंचने की संभावना हो गई है. बीजेपी का पूरा कुनबा जेवीएम के सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी को घेरने में लग गया है और उनके इस आरोप को तथ्यहीन और आधारहीन बताते हुए पलटवार कर रहे हैं.



WhatsApp chat Live Chat