बोकारो : इंजेक्शन लगाने के बाद मरीज की मौत, अस्पताल में बवाल, आरोपी डॉक्टर फरार (देखें वीडियो)

बोकारो : बोकारो के सिटी थाना क्षेत्र अंतर्गत को-ऑपरेटिव कालोनी में मंगलवार देर शाम पुलिस की भारी जमघट लग गयी और स्थिति हंगामेदार बन गयी. ऐसा कथित तौर पर इलाज में लापरवाही के बाद सिकन्दर अंसारी नाम एक 63 वर्षीय मरीज की मौत के बाद हुआ. पुपुनकी के पास चोल्हाडीह निवासी सिकन्दर मंगलवार को अपनी हड्डी का ऑपरेशन कराने आया था. चार दिन पूर्व उसने को-ऑपरेटिव कालोनी में प्लाट संख्या 132 स्थित धनवंतरी हड्डी, नस एवं दुर्घटना उपचार केंद्र में अपना चेकअप कराया था. उपचार केंद्र के संचालक डॉक्टर अनिल कुमार सिंह ने खुद उसका चेकअप किया था और आज उसे ऑपेरशन के लिए बुलाया था.

इंजेक्शन लगाने के बाद बिगड़ गई हालत

परिजनों का आरोप है कि ऑपरेशन के क्रम में डॉक्टर ने न जाने ऐसा कौन सा इंजेक्शन लगा दिया कि सिकन्दर की हालत काफी बिगड़ गई. उसे डॉक्टर और अन्य लोग केएम मेमोरियल अस्पताल लेकर गए, जहां उसकी मौत हो गई. परिजनों के अनुसार उक्त इंजेक्शन लगने से पहले सिकन्दर की हालत ठीक थी. मौत के बाद परिजनों ने उक्त अस्पताल में जमकर बवाल काटा. डॉक्टर के साथ-साथ अन्य अस्पतालकर्मियों के साथ उनकी नोंक-झोंक भी हुई. मृतक के पुत्र ने मीडिया के समक्ष खुलकर डाक्टर पर अपने पिता की हत्या का आरोप लगाते हुए इंसाफ की मांग की है. परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है.




हालात बिगड़ते देख डॉक्टर हुए फरार

मामले की जानकारी मिलने पर सिटी डीएसपी ज्ञान रंजन, थाना प्रभारी मदन मोहन प्रसाद सिन्हा सदल-बल मौके पर पहुंचे. स्थिति की गंभीरता को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी मौके पर तैनात कर दिए गए. समाचार लिखे जाने तक स्थिति तनावपूर्ण बनी थी. डीएसपी ने कहा कि पुलिस मामले की जांच कर रही है. इधर, हालात खराब होते देख डॉ अनिल फरार बताए जा रहे हैं.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat