महिला सशक्तिकरण के लिये बोकारो को मिला राष्ट्रीय सम्मान

bokaro1बोकारो : बोकारो जिला प्रशासन ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर अपनी उपलब्धि का लोहा मनवाया है। नई दिल्ली में जिले के उपायुक्त मृत्युंजय कुमार बर्णवाल को बोकारो में महिलाओं के उत्थान एवं सशक्तीकरण के क्षेत्र में बेहतर कार्य करने के लिए स्काच मेरिट आफ आर्डर अवार्ड से सम्मानित किया गया।

राजमिस्त्री के तर्ज पर रानी-मिस्त्री को मिला था शौचालय-निर्माण का कार्य

जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी विकास कुमार हेम्ब्रम के अनुसार बोकारो में स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के लिए शौचालय बनाने के कार्य में महिला दीदीयों ने एसएचजी (स्वंय सहायता समूह) से जुड़कर शौचालय निर्माण में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया तथा स्वयं से मिस्त्री का भी काम किया। इसलिए उन्हें पुरूष राज मिस्त्री के तर्ज पर महिला होने के कारण रानी मिस्त्री का दर्जा दिया गया।





बोकारो पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, कुख्यात लुटेरा मो. मुकीम गिरफ्तार

9,583 शौचालय का हुआ निर्माण

महिलाओं की इस कला ने जहां बोकारो की महिलाओं की स्थिति को मजबूती प्रदान की, वहीं भविष्य में उन्हें आत्मनिर्भर होने हेतु उनका एक मार्ग भी प्रशस्त किया। बोकारो में दिसम्बर 2017 तक कुल 857 एसएचजी ग्रुप की 10,475 महिलाओं ने 9,583 शौचालय का निर्माण किया।


पिठोरिया में दिनदहाड़े बैंक से सात लाख की लूट, जांच में जुटी पुलिस

स्काच मेरिट आफ आर्डर अवार्ड से हुए सम्मानित

गौरतलब है कि स्काच पुरस्कार देश के वैसे चुनिंदा सरकारी एवं गैरसरकारी संस्थानों को प्रदान किया जाता है, जो समाज के नवोन्मेष के लिए बेहतर एवं प्रेरणादायी कार्य करते हैं। स्काच पुरस्कार से सम्मानित संस्था या व्यक्ति को अच्छे कार्यों हेतु विश्वास बढ़ता है। इसी क्रम में उपायुक्त मृत्युंजय कुमार बर्णवाल को स्काच ग्रुप के सदस्यों ने विभिन्न प्रतिभागियों के बीच उन्हें यह सम्मान दिया।





WhatsApp chat Live Chat