बोकारो : मासूम की हत्या में मां, चाचा सहित तीन आरोपियों को उम्रकैद

मासूम की हत्याबोकारो : बोकारो के अपर सत्र न्यायाधीश द्वितीय- जनार्दन सिंह की अदालत ने मंगलवार को आठ वर्षीय एक मासूम की हत्या के अहम मामले में सुनवाई करते हुए तीन आरोपियों को आजीवन सश्रम कारावास की सजा सुनाई. घटना वर्ष 2014 में जिले के सियालजोरी थाना क्षेत्र अंतर्गत मधुनिया गांव में घटी थी. अदालत ने विकास कुमार नामक बच्चे की हत्या के आरोप में उसके चाचा मुकेश महतो और बुलेट महतो के साथ-साथ उसकी सौतेली मां झिंगली देवी को आजीवन कारावास और 5000 रुपये जुर्माना की सजा सुनाई.




मामले के अपर लोक अभियोजक आरके राय ने इस संदर्भ में जानकारी देते हुए बताया कि घटना का कारण पैतृक संपत्ति को लेकर उत्पन्न विवाद था. जिसमें उक्त तीनों ने आठ वर्षीय मासूम को अपनी हैवानियत का शिकार बनाया था. बीते तीन सितंबर 2014 को उक्त तीनों ने मिलकर विकास कुमार के साथ मारपीट शुरू कर दी उसे वे बेरहमी से मारने-पीटने लगे. इतने में उसकी अपनी मां रमणी देवी ने यह देख लिया. जब अपने बेटे को बचाने के लिए वह दौड़ी तो उक्त तीनों अभियुक्तों ने मिलकर उसे एक कमरे में बाहर से बंद कर दिया. इसके बाद वे लोग बच्चे को वहां से उठाकर ले गए. दो दिनों के बाद इजरी नदी के किनारे एक झाड़ी में उक्त बच्चे की लाश बरामद की गई थी. अदालत ने जघन्य हत्या के इस मामले में तीनों को दोषी पाते हुए उक्त सजा सुनाई.

 



Loading...
WhatsApp chat Live Chat