दुल्हन कर रही थी बारात का इंतजार, दहेज लोभियों ने पैसे की वजह से किया शादी से इनकार

गिरिडीह : लोग आज बेटी को जन्म देने से शायद इसलिये डरते हैं कि उनकी शादी के वक्त दहेज के रूप में मोटी रकम मांगी जाती है. अगर रकम न अदा की जाये तो रिश्ता वहीं खत्म हो जाता है. इससे घर वालों को परेशानी तो होती ही है, सात में समाज के लोग कई तरह की बातें बनाने लगते हैं. इसी क्रम में गिरिडीह के बेंगाबाद थाना क्षेत्र धुतिया गांव में एक ऐसा ही मामला सामने आया है. यहां दहेज लोभियों ने पैसे नहीं मिलने के कारण शादी करने से इनकार कर दिया. वे बारात ले कर लड़की के घर पहुंचे ही नहीं. लड़की अपने दुल्हे और बारातियों का इंतजार करती रही.

क्या है मामला




बेंगाबाद थाना क्षेत्र के घुतिया गांव में रहने वाले मो. कोरेश की बेटी शहनवाज की शादी मधुपुर थाना क्षेत्र के आस्था गांव निवासी समसुल शेख के बेटे नईम शेख से तय हुई थी. दोनों की शादी 6 जुलाई को होना तय हुआ था. इधर लड़की के घर पर शादी की तैयारियां जोरों पर थी. सारी तैयारियों पर पानी तब फिर गया जब, दूल्हे के पिता ने 60 हजार नगदी की मांग की और उस पर अड़ गये. उन्होंने कहा कि जब तक पैसे नहीं मिलेंगे, तब तक बारात नहीं जाएगी. यह सुनते ही परिजनों में मायूसी छा गयी. बता दें कि सादी को लेकर अंजुमन ने सारे दस्तावेज बना दिये थे. वहीं. अंजुमन सदर ने भी लड़के प7 को काफी समझाया. उनकी बात भी लड़के के पिता ने नहीं मानी. इसके बाद दुल्हन के पिता ने बेंगाबाद थाना में आवेदन देकर मदद की गुहार लगाई. इधर थाना प्रभारी पृथ्वीसेन दास ने कहा कि मामले की जांच गम्भीरता से की जा रही है. दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat