कुआं में छात्रा के गिरने का मामला : 20 दिन बाद भी आरोपी टीचर पर नहीं हुई कार्रवाई

गोमो (धनबाद) : तोपचांची प्रखंड के मानटांड स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में बीते 20 जून को सूखे कुएं में गिरने से एक छात्रा गिर गयी थी. नौवीं क्लास में पढ़ने वाली छात्रा प्रिया कुमारी उस कुएं की सफाई करने दौरान कुएं में गिर गयी थी, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गयी. उसके कमर में काफी चोट आई थी. स्कूल की ही शिक्षिका के कहने पर छात्रा प्रिया सूखे कूएं में सफाई करने के लिए उतर रही थी. उतरने के क्रम में ही वह गिर कर घायल हो गयी. घटना के बाद पूरे मामले के जांच की जिम्मदारी शिक्षा विभाग के पदाधिकारी जयराम और वार्डन सरोज कुमारी को सौंपी गयी थी.

धनबाद: कस्तूरबा विद्यालय की टीचर ने छात्रा से करवाई कुएं की सफाई, गिरकर घायल 

विरोध में आजसू पार्टी ने किया धरना प्रदर्शन

इधर घटना के 20 दिन से ज्यादा बीत जाने के बाद भी तक जिम्मेवार शिक्षिका सुनीता कुमारी के खिलाफ किसी तरह की विभागीय कार्रवाई नहीं की गयी है. जिससे आहात होकर आजसू पार्टी के किसान मोर्चा जिलाध्यक्ष सदानंद महतो ने सहयोगियों के साथ शुक्रवार को कस्तूरबा गांधी विद्यालय के मुख्य द्वार पर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया. प्रदर्शन करते हुए श्री महतो ने अपने संबोधन में कहा कि कक्षा नौ की छात्रा 14 वर्षीय प्रिया कुमारी सफाई के दौरान कुआं में गिर गयी थी. जिसके कारण कमर में चोट लगी थी. इसका समुचित इलाज का खर्च स्कूल प्रबंधन को वहन करना चाहिए.




श्री महतो ने शिक्षा विभाग के पदाधिकारी जयराम, वार्डन सरोज कुमारी पर जांच नहीं करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि शिक्षा पदाधिकारी जयराम मामले की जांच गंभीरता से नहीं कर रहे हैं. वहीं वार्डन का भी जांच के प्रति कोई खास रूची नहीं दिख रहा है. सदानंद महतो ने शिक्षा पदाधिकारी जयराम, वार्डन सरोज कुमारी और आरोपी शिक्षिका सुनीता कुमारी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की माग की.

धरना प्रदर्शन करते हुए प्रदर्शनकारियों ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की. साथ ही कहा कि उचित कार्रवाई नहीं होने पर आजसू पार्टी धारदार आंदोलन करने को बाध्य होगी. आजसू पार्टी प्रिया कुमारी के साथ न्याय चाहती है.

धरना प्रदर्शन में ये थे मौजूद

इस अवसर पर गीता देवी विधायक प्रतिनिधि, मीना देवी, कौशल्या देवी, संगीता देवी, अमर भारती, मोहम्मद इरशाद, अमर भारती, विवेक कुमार, दिवाकर दास, मोहम्मद गुलाम रब्बानी, दिनेश दास, जमुना महतो, खिरोधर महतो, रिंकी राय, उषा कुमारी, अनिल महतो, प्रमोद महतो, संजय महतो एवं मोहम्मद इकराम उल हक आदि कार्यकर्ता प्रमुख रूप से उपस्थित थे.





WhatsApp chat Live Chat