शहरों को रोशन करने के लिए अंतरिक्ष में आर्टिफिशियल मून स्थापित करेगा चीन

China set Artificial Moon space illuminate citiesबीजिंग: हमारे पड़ोसी देश चीन का यह दावा है कि वह 2020 तक अपना खुद का चांद अंतरिक्ष में स्थापित करेगा. इसकी रोशनी असली चांद से आठ गुना अधिक होगी. इसके पीछे चीन का मुख्य उद्देश्य चीन के चेंगदू शहर को रोशन करना है. बताया जा रहा है कि इसकी रोशनी इतनी अधिक होगी कि स्ट्रीट लाइट की जरुरत नहीं पड़ेगी.

पाक: 7 साल की बच्ची से दुष्कर्म और हत्या के दोषी सीरियल किलर को दी गई फांसी

एशिया टाइम्स की खबर के अनुसार चीन के सिचुआन प्रांत की राजधानी चेंगदू ने घोषणा की है कि 2020 तक वह अंतरिक्ष की कक्षा में एक सैटेलाईट स्थापित करेगा, जो सूर्य की रोशनी को परावर्तित कर रात में शहर को रोशन करेगा. सैटेलाईट में एक परावर्तक कोटिंग का इस्तेमाल किया जाएगा, जिससे प्रतिबिंबित होने वाली रोशनी धरती के 50 वर्ग मील क्षेत्र  को रोशनी प्रदान करेगा.




यह 1999 के रुसी शोधकर्ताओं के उस प्लान पर आधारित है, जिसमें कक्षा में रखे दर्पण की मदद से साइबेरिया के शहरों को रोशन करने की योजना बनाई गई थी. चीन का मानना है कि यह तकनीक बिजली की तुलना में एक किफायती विकल्प साबित होगा.

यह विचार बिजनेसमैन और चेंगदू एयरोस्पेस साइंस एंड टेक्नोलॉजी माइक्रोइलेक्ट्रॉनिक्स सिस्टम रिसर्च इंस्टिट्यूट के अध्यक्ष वू शुनफेंग ने दिया है. उन्होंने बताया कि आर्टिफिशियल मून पर शोध चल रहा है. इसकी प्रारंभिक टेस्टिंग पूरी कर ली गई है और इसे 2020 तक अंतरिक्ष के सतह पर स्थापित किया जाएगा.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat