रांची मिशनरीज ऑफ चैरिटी की युवती ने दिया बच्चे को जन्म

Delivery girl Missionaries Charity Ranchi Sadar Hospitalरांची : मिशनरीज ऑफ चैरिटी के एक युवती का रांची सदर हॉस्पिटल में डिलीवरी कराई गई. इस मौके पर समाज कल्याण पदाधिकारी, रांची सिविल सर्जन सहित सदर हॉस्पिटल के डॉक्टर मौजूद थे. रांची मिशनरीज ऑफ चैरिटी ईस्ट जेल रोड बच्चा बेचने के मामले के बाद यह पहला मौका था जब यहां रह रही युवती ने किसी बच्चे को जन्म दिया.

इस वजह से सदर हॉस्पिटल की पूरी टीम एक्टिव नजर आई. वहीं समाज कल्याण पदाधिकारी सहित सिविल सर्जन पुरे व्यवस्था को संभालते हुए दिखाई दिए. फिलहाल अन्य युवतियों को नामकुम के सेंटर होम में रखा गया है. जिसकी जांच शनिवार को रांची सदर हॉस्पिटल में किया जाएगा क्योंकि अन्य युवतियां भी प्रेग्नेंट है और डिलीवरी डेट और स्वास्थ्य की जांच के लिए रांची सदर हॉस्पिटल शनिवार को बुलाया गया है.




बता दें कि बुधवार को मिशनरीज ऑफ चैरिटी की संस्था निर्मल होम से एक बच्चे को बेचे जाने का मामला उजागर होने के बाद सीडब्ल्यूसी ने मिशनरीज ऑफ चैरिटी के खिलाफ कार्रवाई करते हुए मिशनरीज ऑफ चैरिटी के हिनू स्थित शिशु सदन को शुक्रवार को सील कर दिया गया. चाइल्ड वेलफेयर कमेटी(सीडब्‍ल्‍यूसी) ने यहां रहने वाले 22 बच्चों को अपने कब्‍जे में ले लिया है. सभी बच्चों को दो एनजीओ के शेल्टर होम में शिफ्ट किया गया है. सदन के सभी दस्तावेजों को भी जब्त कर लिया गया है. सीडब्ल्यूसी के सदस्यों के अनुसार निर्मल होम के रजिस्टर में गड़बड़ी मिली है. निर्मल होम में आने वाली महिलाओं का ब्यौरा सीडब्ल्यूसी को नहीं दिया जाता था. शिशु सदन के मामले में भी कुछ शिकायतें मिली थीं. रजिस्टरों और दस्तावेजों को मिलान के बाद शिकायतों की जांच की जाएगी.





WhatsApp chat Live Chat