भूमि अधिग्रहण पर भड़के बीजेपी विरोधी, पार्टी पर हक़ छीनने का आरोप

hadtaal in dhanbaad चंदनकियारी में भूमि अधिग्रहण  बिल को लेकर विपक्ष के सर्वोदलियों पार्टी ने चंदनकियारी प्रखण्ड कार्यालय के समक्ष एक दिवसीय धरना प्रर्दाशन किया. इसमें कांग्रेस, झामुमो,  मासस, आदि नें भी हिस्सा लिया. इस धरना प्रदर्शन में राज्य सरकार के खिलाफ विरोध दर्ज किया गया. मौकै पर कांग्रेस के प्रखंड अध्यक्ष देवाशिष मंडल ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा लाया गया भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक 2017 अभी तक का सबसे घातक काला कानून हैं.




उन्होंने कहा कि ये बिल पास कर  प्रदेश के मूलनिवासी व आदिवासी किसानों का हक छीना गया है.  भाजपा सरकार ने आदिवासी व मूलवासी के जमीन को औने-पौने दाम पर बेचने की चाल चली है. भूमि अधिग्रहण बिल को हर हाल में वापस लेना होगा.

अगर ऐसा नहीं होता है तो प्रखंड स्तर से लेकर सदन तक आंदोलन होगा. झारखंडी अपने जंगल व जमीन को पूंजी व उधोगपति के हाथो में नही देने चाहते हैं. सभी विपक्ष के नेताओ ने मिलकर माननीय राज्यपाल के नाम प्रखंड विकास पदाधिकारी चंदनकियारी को ज्ञापन सौंपा.

इस अवसर पर उत्तम कुमार दास, विरीची माहथा, गमेश सौरेन, लालमोहन रजवार, विरेन रजवार, सोनाराम टुडूदुलाल प्रमाणिक,अशोक दौसोंदी, आदि उपस्थित थें.





WhatsApp chat Live Chat