ऐसे ही नहीं कहते डॉक्टरों को धरती का भगवान

धरतीसत्यव्रत किरण

रांची : रिम्स के युवा डॉक्टर इन दिनों इतिहास लिखने को तैयार हैं. हाल ही में नेत्र विभाग के डॉक्टर राहुल और सुनील ने कॉर्निया ट्रांसप्लांट कर नया कीर्तिमान स्थापित किया था. और अब कैंसर विभाग के डॉक्टर अनूप और कार्डियोलॉजी के डॉक्टर प्रवीण श्रीवास्तव ने सफल ऑपरेशन कर रिम्स की गरिमा हो बढ़ाया है. शायद इसलिए तो डॉक्टरों को धरती का भगवान कहा जाता है. रिम्स के डॉक्टर निस्वार्थ भाव से इसी तरह से मरीजों की सेवा में लगे रहे तो पूरे देश और दुनिया में रिम्स का परचम लहराएगा.

सरफुद्दीन को है लिवर का कैंसर

रिम्स के कार्डियोलॉजी विभाग में भर्ती साहिबगंज जिले के रहने वाले मोहम्मद सरफुद्दीन के कैंसर का इलाज नई तकनीक से कर डॉक्टरों ने नई जिंदगी देने का प्रयास किया है. सरफुद्दीन को लिवर का कैंसर है, मगर रिम्स के कैंसर विभाग के डॉक्टर अनूप और कार्डियोलॉजी डॉक्टर प्रवीण श्रीवास्तव ने नई तकनीक के सहारे कैंसर पीड़ित मरीज के लीवर में सीधे कीमो कर कैंसर के मरीज का इलाज किया. बता दें कि जब सामान्य तरीके से मरीज को कीमो दिया जाता है तब पूरे शरीर में असहनीय पीड़ा होती हैं. साथ ही कई साइड इफेक्ट्स भी होते हैं.




नई उपचार तकनीक से नहीं होती परेशानी

वहीं रिम्स के कैंसर विभाग के डॉक्टर ने बताया कि नई तकनीक के उपचार से मरीज को परेशानियां भी नहीं होती और लीवर को भी लाभ मिलता है. साथ ही दूसरे अंगों पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ता. इस नए तकनीक से मरीजों को फायदा मिल रहा है.





WhatsApp chat Live Chat