19 महीने के सबसे निचले स्तर पर पहुंचा रूपया, बढ़ सकती है महंगाई

FALL IN RUPEESनई दिल्ली : अंतराष्ट्रीय मुद्रा बाजार में भारतीय रूपए की कीमत में लगातार गिरावट देखी जा रही है. एक अमेरिकी डॉलर  के मुकाबले रूपए में 13 पैसे की गिरावट के साथ बंद हुआ. फिलहाल रूपया 68.25 रूपए स्तर पर है.

बुधवार को अमेरकी डॉलर के मुकाबले रूपया 19 पैसे टूटकर 68.43 के स्तर पर खुला. एक्सपर्ट्स की माने तो ट्रेड वॉर गहराने की आशंका है. क्रूड की कीमतों में आई तेजी की वजह से भारतीय रूपए पर दबाव बढ़ता दिख रहा है. ऐसी स्थिति में क्रूड  इंपोर्ट करना  और भी महंगा हो जाएगा. बता दें कि पिछले दो महीने में रुपया 6 फीसदी तक टूट चूका है.




इसके पीछे कारण अमेरिका और चीन के बीच बढ़ते ट्रेड वॉर आशंका को बताया जा रहा है.  इसके  अलावा महीने के आखिर में  आयल  मार्केटिंग कंपनियों में  डॉलर की मांग बढ़ जाती है.

रूपए में गिरावट से आम आदमी पर खासा प्रभाव पड़ेगा. पेट्रोलियम उत्पाद महंगे हो जाएंगे. बता दें कि भारत अपनी जरुरत का 80 फीसदी पेट्रोल आयात करता है. घरेलु तेल कंपनियां पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी कर सकता है. तेल के दामों में बढ़ोतरी होने से माल की ढुलाई बढ़ेगी, जिसके चलते महंगाई बढ़ेगी.रूपए में कमजोरी आने से घरेलू बाजार में खाद्य तेलों और दालों के दामों में बढ़ोतरी होगी.





WhatsApp chat Live Chat