नाबालिग आदिवासी बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म, पांच युवकों ने बनाया हवस का शिकार

गिरिडीह : गांडेय प्रखंड के धर्मपुर गांव में एक नाबालिग आदिवासी बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है. बच्ची शाम 5 बजे शौच के लिए गई थीं. इसी दौरान पांच युवकों ने बच्ची को जबरन उठाकर जंगल की ओर ले गया. जहां उसके साथ दुष्कर्म किया गया.

घटना के संबंध में बताया जाता है कि धनबाद-टुंडी की रहने वाली 14 वर्षीय बच्ची अपने नाना के घर गांडेय के धर्मपुर घूमने के लिए आई थी. 19 जुलाई की शाम वह शौच के लिए गई थी. इसी दौरान विकास उर्फ खुड़ि‍या मरांडी, छोटेलाल हांसदा, राजेश हांसदा, प्रमोद उर्फ कोलू हेम्ब्रम व राजेंद्र हेम्ब्रम ने उक्त लड़की के साथ मुंहकाला किया.




इंदिरा आवास में लड़की को रात भर रखा

इन पांचों आदिवासी युवकों ने उक्त लड़की के साथ हैवानियत की हद पार कर दी. उक्त बच्ची को गांव के ही खाली पड़े एक इंदिरा आवास में रात भर रखा. देर शाम बाद परिजन उक्त लड़की को ढूंढ़ने निकले, लेकिन उसका कोई पता नहीं चला. दूसरे दिन दोपहर करीब 12 बजे उक्त लड़की के परिजनों ने उसे इंदिरा आवास में बेहोशी की हालत में पड़ा देखा. बाद में उसे घर लाकर पूछताछ की गई. परिजनों के समक्ष उक्त लड़की ने आपबीती सुनायी.

गांडेय थाना में मामला दर्ज

बाद में इसकी सूचना गांडेय थाना पुलिस को दी गई. पुलिस उक्त लड़की को मेडिकल जांच के लिए गिरिडीह सदर अस्पताल भेज कर जांच में जुट में गयी है. गांडेय पुलिस ने पीड़िता के बयान पर इन पांचों आरोपियों के विरूद्ध धारा 376डी की भादवि धारा 4/8 पोस्को एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है.





WhatsApp chat Live Chat