बढ़ने वाला है गरीब रथ का किराया, इसलिए लिया गया फैसला

gareeb rath fare to include bedroll charges नयी दिल्ली: देशभर के सहित रांची से नयी दिल्ली के लिए चलने वाली गरीब रथ कॉमन लोगों की पसंदीदा ट्रेन है. कम किराए में एसी से ट्रेवल करने का ये बेहतरीन  ऑप्शन है. पहले गरीब रथ के टिकट के साथ बेडरोल शुल्क नहीं जुड़ा होता था. ट्रेन में चढ़ने के बाद शुल्क चुका कर बेडरोल लेने की सुविधा गरीब रथ में दी जाती है.

धनबाद: लकड़ी की जगह इस्तेमाल की जा रही है गोबर की चिता, कर रहा है ट्रेंड




लेकिन अब ये सुविधा बदलने वाली है. अन्य वातानुकूलित ट्रेनों की तरह गरीब रथ ट्रेनों के किराये में भी बेडरोल का शुल्क शामिल करने की तैयारी की जा रही है. लेकिन यह किराया कुछ ज्यादा बढ़ सकता है क्योंकि रेलवे बेडरोल शुल्क को भी बढ़ाने पर विचार कर रहा है. करीब 12 साल से यह शुल्क करीब 25 रुपये है.

रांची: दोस्त के बदले CISF की परीक्षा देने पहुंचा युवक, पकड़ाया, आज जाएगा जेल

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि बेडरोल रख रखाव की बढ़ती कीमतों के मद्देनजर यह शुल्क अन्य ट्रेनों के वातानुकूलित दर्जो में भी बढ़ने की संभावना है. दरअसल, यह पुनर्विचार उपनियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (डीकैग) के उस नोट पर किया जा रहा है जिसमें गरीब रथ के बेडरोल शुल्क में बढ़ोतरी नहीं किए जाने पर सवाल उठाया गया था. साथ ही इसके शुल्क को ट्रेन किराये में ही शामिल करने का सुझाव दिया गया.





WhatsApp chat Live Chat