गिरिडीह : मानव सेवा परिवार के कार्यक्रम में पहुंचे एसपी, कहा- मानव सेवा ही सबसे बड़ा धर्म

सहायता कैम्प का आयोजनबेंगाबाद (गिरिडीह) : मानव सेवा परिवार की ओर से बेंगाबाद प्रखण्ड अंतर्गत फुरसोडीह स्थित जगन्नाथ धाम मंदिर परिसर में शनिवार को सहायता कैम्प का आयोजन किया गया. कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि जिला के पुलिस कप्तान सुरेंद्र झा उपस्थित हुए. जबकि विशिष्ट अतिथि के रूप में व्यवसायी अमरजीत सिंह सलूजा, डॉ राजेश पोद्दार, मिथिलेश सिन्हा, मुखिया शामिम अहमद आदि शामिल थे. यहां अतिथियों का स्वागत संस्था के लोगों द्वारा पूरी गर्मजोशी के साथ किया गया.

इसे भी पढ़ें : जिंदा है धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन, डेंजर जोन को बाइपास कर रास्ता निकालने पर हो र‍हा मंथन

इसे भी पढ़ें : जब जाम हटाने सड़क पर उतरी लेडी सिंघम, तो मच गया हड़कंप (देखें वीडियो)

4 विकलांगों को व्हील चेयर, खाद्य सामग्री एवं कपड़े उपलब्ध कराये गयेसहायता कैम्प का आयोजन

स्वागत के बाद कार्यक्रम का उद्घाटन पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र झा के निर्देश पर स्कूली बच्चों से दीप प्रज्‍ज्‍वलित कर कराया गया. कार्यक्रम में बेंगाबाद प्रखण्ड क्षेत्र के 4 विकलांगों को मानव सेवा परिवार की ओर से व्हील चेयर, खाद्य सामग्री एवं कपड़े उपलब्ध कराये गये. वहीं कार्यक्रम के दौरान वर्ष 2018 के माध्यमिक परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन करने वाली छात्राओं को एसपी सुरेंद्र झा ने सम्मानित किया. मौके पर क्षेत्र की अन्य गरीब महिलाओं के बीच संस्था की ओर से साड़ी वितरित की गई. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए एसपी सुरेंद्र झा ने मानव सेवा परिवार के कार्यों की सराहना करते हुए मानव सेवा को ही सच्चा धर्म बताया. उन्होंने कहा कि जरूरतमंदों की सेवा करना ही सबसे उत्तम धर्म है.




इसे भी पढ़ें : धनबाद: महिला के पेट से निकले 10 इंच के 300 जिंदा केंचुए, मुंह से भी निकले कीड़े

इसे भी पढ़ें : अलकतरा घो‍टाला में ईडी की बड़ी कार्रवाई, सन्‍नी कंस्‍ट्रक्‍श्‍न कंपनी पर 60 लाख का चार्जशीट दायर

एसपी ने साईबर क्राइम से बचने की जानकारी दीgiridih

कार्यक्रम के दौरान एसपी सुरेंद्र झा ने लोगों को साईबर क्राइम से बचने की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि गिरिडीह पुलिस की ओर से विशेष अभियान चलाकर लोगों को जागरूक किया जाएगा, ताकि सीधे- साधे लोग साईबर क्रिमिनल्स की जाल में नहीं फंसे.

कार्यक्रम के सफल आयोजन में संस्था के सतीष केडिया, उप मुखिया छबिया देवी, जगन्नाथ मंडल, संजय अग्रवाल, शुभम केडिया, सतीश अग्रवाल, सुभाष गोयल, अंकित केडिया, आशुतोष तिवारी, अंजू केडिया, रीता सोंथालिया, मंजू देवी, सरिता बंसीवाला समेत अन्य लोगों की भूमिका सराहनीय रही.

इसे भी पढ़ें : जिन्‍हें स्‍थानांतरण और पोस्टिंग की नहीं है जानकारी, वैसे बच्‍चे शिक्षकों के स्‍थानांतरण का कर रहे विरोध





WhatsApp chat Live Chat