गोमो : चोर के हाथो में तिजोरी की चाभी, गोमो रेलवे स्टेशन का कुछ ऐसा ही हाल

GOMO RALWAY STATION HAWKER गोमो : चोर के हाथो में तिजोरी की चाभी, गोमो रेलवे स्टेशन में यह कहावत चरितार्थ होता दिख रहा है, क्योंकि गोमो रेलवे स्टेशन में हिस्ट्रीशीटरों को अवैध हॉकरों से पैसे वसूलने के लिए लगा दिया गया है, जो की रोजाना दिनभर अवैध हॉकरों (चाय, इटली, समोसे चने आदि बेचने वालो) से करीब 150 सौ रूपए वसूलते हैं और GRP और अन्य अफसरों को देते हैं. इनमें से कुछ पैसा इन हिस्ट्रीशीटर रूपी ठीकेदारों को भी मिलता है, हास्य पद बात यह है कि जब कोई रेलवे का बड़ा अफसर गोमो रेलवे स्टेशन में निरिक्षण करने पहुंचता है तो पहले से ही गोमो रेलवे स्टेशन पर उपस्थित सभी अवैध हॉकरों को भगा दिया जाता है.

साफ़ शब्दों में कहा जाए तो गोमो रेलवे स्टेशन रेलवे के ही अधिकारियों के लिए पैसे उगाही का साधन बनकर रह गया है, जहां रेलवे के अधिकारियों ने हिस्ट्रीशीटरों अपराधियों को रेलवे प्लेटफार्म में खुला छोड़कर यात्रियों की जानमाल की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है. यात्रियों को अवैध हॉकरों द्वारा खराब क्वालिटी के खाने-पिने की सामान परोसे जा रहे हैं. रेलवे के सभी अधिकारियों के सामने ये गोरखधंधा जोर शोर से चलाया जा रहा है लेकिन रेलवे के अधिकारियों और हिस्ट्रीशिटरों की मिलीभगत से यात्रियों की जान के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है.

बीसी मंडल (चीफ यार्ड मास्टर, गोमो ) का कहना है कि गोमो रेलवे स्टेशन में अवैध हॉकर नहीं हैं, लेकिन अगर कोई अपराधी प्रवृति का व्यक्ति गोमो प्लेटफार्म पर हॉकरों से पैसे वसूलता है तो मैं इसकी जांच कराऊंगा और विधिसंवत कार्यवाही होगी.

गोमो रेलवे स्टेशन में छिनतई और अटैची लिफ्टिंग की घटना में भी इजाफा हुआ है. हॉकरों से पैसा वसूलने के लिए जिन अपराधियों को GRP के अफसरों ने रखा है, उनमें से एक है कुदुस अंसारी. वह पूर्व में अटेची लिफ्टिंग (ट्रेनों में छिनतई) का काम करता था और वह हरिहरपुर (तोपचांची ) का रहने वाला है.

 कुदुस अंसारी दिन भर गोमो रेलवे प्लाटफार्मो पर अवैध हॉकरों से अवैध रूप से पैसे वसूलता है, एक हाकर से 150 सौ रूपए लिए जाते हैं. गोमो रेलवे स्टेशन में ऐसे करीब 200 अवैध हॉकर है जो विभिन्न ट्रेनों और प्लाटफार्मो पर समोसे, इडली, चने, चाय आदि यात्रियों को बेचते हैं.

ये हैं आंकड़े

200 अवैध हॉकर

200 * 150 रु = 30,000/–रु रोजाना

30,000/- * 30 दिन = 9,00000/-लाख रु

यानि 9,00000/-लाख रु महीना गोमो रेलवे स्टेशन से अवैध हॉकरों से उगाही की जाती है.



Loading...
WhatsApp chat Live Chat