आदिवासियों की एकजुटता से डर गई है सरकार, इसलिए पत्‍थलगड़ी समर्थकों को रेपकांड में फंसा रही : जॉर्ज जोनास किडो

कोचांग गांव में ग्रामसभाखूंटी : जिले के कोचांग गांव में पांच युवतियों का अपहरण कर सामूहिक दुष्‍कर्म मामले में अब ग्रामसभा और पुलिस आमने-सामने दिख रही है. मामले में पुलिस ने फादर समेत कई लोगों को नामदज आरोपी बनाया है. पुलिस की इस कार्रवाई के बाद कोचांग गांव में ग्रामसभा का आयोजन किया गया, जिसमें इस रेप कांड का मास्टरमाइंड बताये जा रहे जॉर्ज जोनास किडो भी शामिल हुआ. ग्रामसभा में वक्ताओं ने जिला प्रशासन पर कई गंभीर आरोप लगाए. वक्‍ताओं ने सरकार और पुलिस प्रशासन पर अपराधियों और नक्सलियों को संरक्षण देने का आरोप लगाया और कहा कि ग्रामसभा अब खुद के अधिकार को अमल में ला रही है तो जिला प्रशासन को परेशानी हो रही है.

इसे भी पढ़ें :बिहार पुलिस का कारनामा: वसूली के लिए पहुंच गए यूपी की सीमा में

सभा को संबोधित करते हुए जॉर्ज जोनास किडो ने कहा कि सरकार के द्वारा पांचवी अनुसूची और आदिवासियों के हित में कानून को लागू ना करना आदिवासियों के साथ अन्याय है. सरकार के गलत कामों का ग्रामसभा उजागर कर रही है. पत्‍थलगड़ी के माध्‍यम से आदिवासी समाज एकजुट हो रहा है, जिससे सरकार डर गई है और इसी से बौखलाकर सरकार और जिला प्रशासन द्वारा उन पर दुष्कर्म के आरोप लगाए जा रहे हैं. जॉर्ज जोनास ने सफाई देते हुये कहा कि मुझे मास्टरमाइंड कहा जा रहा है जो सरासर गलत है. सरकार सोची समझी साजिश के तहत हम लोगों को फंसाने की कोशिश कर रही है. साथ ही उसने पांचवी अनुसूची क्षेत्र में द्वारा सामान्य क्षेत्र का कानून थोपने का आरोप लगाया.

इसे भी पढ़ें :कार्डिनल तेलस्फोर पी टोप्पो हुये सेवानिवृत्‍त, जमशेदपुर के बिशप फेलिक्स टोप्पो संभालेंगे पद

पत्‍थलगड़ी आंदोलन को दबाने की साजिश




युवतियों के साथ सामूहिक दुष्‍कर्म की घटना के बाद प्रशासन ने पत्थलगड़ी समर्थकों को इस रेप कांड का मास्टरमाइंड बताया था. इसपर कड़ा एतराज जताते हुए कुरूंगा में क्षेत्रीय ग्रामसभा की बैठक बुलाई गई. बैठक में अड़की प्रखंड के 35 से 40 ग्राम सभा के लोग जमा हुए. बैठक में वक्ताओं ने कहा कि सरकार और खूंटी जिला प्रशासन पत्‍थलगड़ी आंदोलन को बदनाम करने की कोशिश कर रही है. जिला प्रशासन और सरकार ने पत्थलगड़ी समर्थकों पर पहले अफीम की खेती को संरक्षण देने, नक्सली बताकर बदनाम करने की कोशिश की, मगर जनता जब इनकी बातों पर ध्यान नहीं दिया तो अब गैंगरेप की घटना में नाम जोड़कर पत्‍थलगड़ी समर्थकों को बदनाम करने की साजिश रची जा रही है. जिसका ग्रामसभा विरोध करेगा.

इसे भी पढ़ें :बोकारो : बिजली की लचर व्‍यवस्‍था को लेकर झाविमो ने बोकारो स्टील प्लांट के सीईओ का आवास घेरा

पत्‍थलगड़ी समर्थकों को फंसाने की साजिश : जॉर्ज जोनास किडो

सभा को संबोधित करते हुये रेप कांड के मास्टरमाइंड बताया जा रहे जॉर्ज जोनास किडो ने सरकार पर हमला बोलते हुये कहा कि 5वीं अनुसूची का पालन करने वाले आदिवासियों पर घिनौना आरोप लगाया जा रहा है. सरकार खुद देश के संविधान का पालन नहीं कर रही है. उन्‍होंने कहा कि पत्‍थलगड़ी समर्थकों को गैंगरेप का मास्टरमांइड कहना एक बड़ी साजिश है, जो सरकार और जिला प्रशासन ने मिलकर रची है.

कुरूंगा ग्रामसभा के सचिन बलराम ने कहा कि अखबारों के माध्यम से हम लोगों को दुष्कर्म के मामले की जानकारी मिली. जो भी आरोपी है उसे प्रशासन चिन्हित कर कार्रवाई करे. ग्रामसभा भी अपने स्‍तर से आरोपियों को चिन्हित कर उसकी तलाश करेगी. प्रशासन पत्‍थलगड़ी आंदोलन को बदनाम करने के लिए रेप कांड में पत्‍थलगड़ी समर्थकों का नाम डाल रही है.

इसे भी पढ़ें : बोकारो : वज्रपात ने पांच बच्‍चों की ली जान, दो घायल



Loading...
WhatsApp chat Live Chat