मुठभेड़ में शहीद हुए सीआरपीएफ के जवान को दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर

जमशेदपुर : पूर्वी सिंहभूम जिले के गालूडीह में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में सीआरपीएफ 193 बटालियन का जवान गौतम घोष शहीद हो गया. शहीद सीआरपीएफ जवान गौतम घोष का पार्थिव शरीर सेना के हेलीकॉप्टर से पहले जमशेदपुर लाया गया. जहां से शहीद के शव को एमजीएम मेडिकल कॉलेज स्थित पोस्टमार्टम हाउस ले जाया गया.

 

 




उसके बाद शहीद जवान को सरायकेला-खरसावां जिले के आदित्यपुर स्थित सीआरपीएफ 196 बटालियन मुख्यालय लाया गया. जहां शहीद को गार्ड ऑफ आनर दिया गया. इस दौरान सीआरपीएफ सारंडा सीजन के आईजी संजय आनंद लाठकर, आईजी आपरेशन आशीष बत्रा, पूर्वी सिंहभूम के उपायुक्त अमित कुमार, एसएसपी अनूप बिरथरे, सरायकेला एसपी चंदन कुमार सिन्हा समेत सीआरपीएफ एवं दोनों जिलों के प्रशासनिक अधिकारियों और जवानों ने श्रद्धांजलि दी. उसके बाद सड़क मार्ग से शहीद जवान का पार्थिव शरीर प. बंगाल के लिए रवाना कर दिया गया.

इस दौरान आईजी संजय आनंद लाठकर ने बताया कि निश्चित तौर पर नक्सलियों के हौसले पस्त हुआ है. झारखंड और बंगाल के सुरक्षाबलों ने लगातार नक्‍सलियों के खिलाफ अभियान चलाकर नक्‍सलियों की कमर तोड़ दी है. उन्होंने बताया कि वो दिन दूर नहीं जब नक्सली या तो मारे जाएंगे या सुरक्षाबलों के खौफ से समर्पण कर देंगे. आज हुए मुठभेड़ में 17-18 की संख्या में नक्सलियों के होने की बात बतायी.





WhatsApp chat Live Chat