गुमला : फुड प्‍वाइजनिंग से 60 बच्‍चे बीमार, 20 की स्थिति गंभीर, गुमला सदर अस्‍पताल रेफर

गुमला : जिले के घाघरा प्रखंड मुख्यालय स्थित सर्वेश्वरी स्कूल घाघरा में स्टूडेंट हॉस्टल में फूड प्वाइजनिंग से लगभग 60 छात्र-छात्राएं बीमार हो गई. जिसके बाद हॉस्टल के संचालक नवीन साहू व सहकर्मियों के द्वारा सभी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया. जहां प्राथमिक इलाज के बाद लगभग 20 बच्‍चों की गम्भीर स्थिति को देखते हुए गुमला सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया. वहीं बाकी बचे बच्‍चों की स्थिति नियंत्रण में है. उनका इलाज घाघरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में किया जा रहा है. बीमार बच्चा

घटना के संबंध में स्कूल के छात्र-छात्राओं ने बताया कि रात में बैगन आलू की सब्जी के साथ चावल खाए थे. जिसके बाद सो गए रात में अचानक 1:30 बजे उल्टी व लैट्रिंग होने लगा. सुबह में हॉस्टल के संचालक नवीन साहू के द्वारा पेट गड़बड़ की बात कहकर माड़ भात बनवाकर बच्चों को खिलाया गया, ताकि सभी की तबीयत में सुधार हो सके, लेकिन जब स्थिति नहीं सुधरी तो सभी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया.

बच्चों की देखरेख करने वाली सुशांति उरांव व अरुणा देवी भी बीमार

इसे भी पढ़े :भालू के हमले में एक ही गांव के तीन लोगों की मौत से ग्रामीणों में दहशत, डर से स्‍कूल नहीं जा रहे बच्‍चे

घटना की जानकारी मिलने के बाद डीसी पहुंचे अस्‍पताल, बेहतर इलाज का निर्देश

इधर घटना की जानकारी मिलने के बाद प्रखंड विकास पदाधिकारी विजय कुमार सोनी, अंचलाधिकारी दिनेश प्रसाद गुप्ता ने पीड़ित छात्र-छात्राओं का हालचाल लिया. वही छात्रावास का भी निरीक्षण किया. बच्चों का हाल-चाल जानने के लिए उपायुक्त शशि रंजन भी अस्‍पताल पहुंचे और इलाज़ में कोई कोताही नहीं बरतने का निर्देश चिकित्सकों को दिया.





इसे भी पढ़े :मिजिल्स-रूबेला टीकाकरण अभियान को सफल बनाने के लिए चलाएं जागरूकता अभियान : सुनील वर्णवाल

इस दौरान हॉस्टल के संचालक नवीन साहू को बच्चों को पूरे बरसात गर्म पानी देने का निर्देश दिया. वहीं सावधानी बरतने के लिए कई निर्देश दिए गये. इधर डॉक्टर अरुण कुमार ने बताया कि फूड प्वाइजनिंग सब्जी से ही हुई होगी. क्योंकि दो तीन बच्चों ने सब्जी नहीं खाई थी, जिसका तबीयत नहीं खराब हुई है. बाकी सभी लोग जो सब्जी खाए थे, सबकी तबीयत खराब हुई.

घाघरा सामुदायिक केंद्र में इलाजरत बच्‍चे

सुमित भगत, दीपक उरांव, आर्यन उरांव, नीरज मुंडा, पंकज भगत, पंकज गोप, सोनू यादव, प्रदीप महतो, कैलाश मुन्नी कुमारी, रुपेश यादव, शिवम उरांव, पवन उरांव, मनीषा कुमारी, रजनी मींज, सचिन उरांव, चिंता कुमारी, सोनिया कुमारी, सतीश कुमार, मुकेश गोप, बाल्मीकि गोप, जुफान उरांव, रूपेश साहू, प्रिया कुमारी, प्रीतम बड़ाईक, कार्तिक उरांव, काजल कुमारी, पूजा कुमारी, पूर्णिमा कुमारी, निशु कुमारी, निलेश उरांव, जसवंती कुमारी, हरिदेव उरांव, नैतिक कुमार साहू, प्रशांत यादव, दीपिका कुमारी, अर्चना कुमारी, बादल उरांव, मनीता कुमारी, हरिश्चंद्र उरांव, मणि उरांव का घाघरा में इलाज चल रहा है.

इसे भी पढ़े :रांची: पुल बनाने के लिए किया गया था गड्ढा, गिर गई ऑडी

गुमला सदर अस्पताल में इलाजरत बच्‍चे

नाजुक स्थिति को देखते हुये नैतिक साहू, पूजा कुमारी, पंकज गोप, काजल कुमारी, अमिषा कुमारी, अनामिका मिंज, प्रेम गोप, अंजनी कुमारी, प्रिया कुमारी, कृष मिंज, अभिषेक कुमार, सचिन उरांव, शानिचरवा उरांव, अर्चना कुमारी, मुकेश गोप शामिल है.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat