उच्‍च शिक्षा और रोजगार को लेकर युवाओं में बढ़ा आक्रोश : इनौस

सरिया (गिरिडीह) : भाकपा माले की अनुसांगिक छात्र संगठन आइसा व इनौस की बैठक सरिया स्थित जैन धर्मशाला में सम्पन्न हुई. बैठक में मुख्य रूप से इनौस के राष्ट्रीय परिषद सदस्य संदीप जायसवाल व भाकपा माले के प्रखण्ड सचिव भोला मण्डल मौजूद थे. बैठक की अध्यक्षता अविनाश सिंह व संचालन आइसा नेता कुश कुमार ने किया. उपस्थित दर्जनों छात्र-नौजवानों ने नफरत नहीं अधिकार चाहिए, शिक्षा और रोजगार चाहिए नारे के साथ पूरे प्रखण्ड में छात्र और नौजवानों को गोलबन्द करते हुए सरकार के खिलाफ आंदोलन तेज करने की सहमति बनी.

इस दौरान मुख्य अतिथि संदीप जायसवाल ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र और राज्य सरकार की चार साल गुजर जाने के बाद भी छात्रों के प्रति सरकार उदासीन है. उच्च शिक्षा में निजीकरण होने से गरीब, तबके के छात्रों नामांकन नहीं मिल पाता है अगर मिल भी गया तो परिवार वाले पेट काटकर उनका फीस भरते हैं. देश के बड़े विश्वविद्यालयों में दाखिला लेना गरीब बच्चों के लिए सपना बन गया है. लगातार सीट, आरक्षण और छात्रवृति में कटौती कर युवाओं को देश भर में छलने का काम किया है। पूरे देश में रोजगार मांगे इंडिया के तहत रोजगार को लेकर युवा आंदोलन कर रहे हैं.




वहीं प्रखण्ड सचिव भोला मण्डल ने कहा कि, शिक्षा और रोजगार के लिए देश भर में युवाओं का आक्रोश बढ़ा है. बैठक में तीनों जिला परिषद क्षेत्र में बैठक कर कमिटी बनाने व संघर्षों को तेज करने का निर्णय लिया गया.

मौके पर इनौस नेता जिम्मी चौरसिया, विशाल गम्भीर, मुशर्रफ़ अंसारी, पूरन कुमार महतो, कामेश्वर यादव, अमन पांडेय, राजकुमार मोदी, अजित मोदी, अक्षय कुमार, सुनील दास, सज्जाद अंसारी, सौरभ सामन्तों, अर्जुन पांडेय, अमन सिंह, मुजाहिद अंसारी, सहबाज अंसारी, आंचल पांडेय, विराट सिंह, सचिन मण्डल, शक्ति कुमार, चन्दन कुमार समेत दर्जनों लोग उपस्थित थे.





WhatsApp chat Live Chat