समुद्र में गिरा इंडोनेशियाई विमान, 188 लोग थे सवार, टेक आफ के 13 मिनट बाद टूट गया था संपर्क

जकार्ता : इंडोनेशिया का एक यात्री विमान बड़े हादसे का शिकार हो गया है. जकार्ता से उड़ान भरने के कुछ मिनट बाद ही विमान का एयर ट्रैफिक कंट्रोलर से संपर्क टूट गया. जानकारी के मुताबिक, यह विमान क्रैश होकर समुद्र में गिरा है. इंडोनेशिया की सर्च एंड रेस्क्यू एजेंसी के प्रवक्ता युसुफ लतीफ ने टेक्स्ट मैसेज के जरिए इस घटना की पुष्टि की है. उन्होंने बताया कि रेस्क्यू अभियान शुरू कर दिया गया है.

अधिकारियों के मुताबिक टेक ऑफ के करीब 13 मिनट बाद ही फ्लाइट संख्या JT610 का राडार से संपर्क टूट गया था. क्रैश हुए विमान का मॉडल बोइंग 737 MAX 8 था. विमान में 188 लोग सवार थे. उड़ान सुबह 6:20 बजे भरी थी. इसके 13 मिनट बाद ही सुबह 6.33 बजे विमान का एयर ट्रैफिक कंट्रोलर फ्लाइटराडार24 से संपर्क टूट गया. फ्लाइटराडार24 की फ्लाइट ट्रैकिंग डेटा के मुताबिक संपर्क टूटने से पहले विमान करीब 5000 फीट की ऊंचाई पर उतर आया था, इसके बाद यह फिर ऊपर उठा और आखिर में समुद्र में गिर गया.




इंडोनिशिया की एनर्जी फर्म परटेमिना के अधिकारियों ने बताया कि विमान के मलबे जावा में समुद्र के करीब मिले हैं. इंडोनेशिया की आपदा एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो पूर्वो नुग्रोहो ने हादसे का शिकार हुए विमान की कुछ तस्वीरें ट्विटर पर डालीं, जिनमें बुरी तरह टूट चुका एक स्मार्टफोन, किताबें, बैग, विमान के कुछ हिस्से दिख रहे हैं. आपदा एजेंसी के प्रमुख मुहम्मद सयुगी ने विमान के मलबे मिलने की पुष्टि की है. हालांकि उन्होंने कहा, ‘फिलहाल हमें जानकारी नहीं है कि इस हादसे में कोई बचा है या नहीं.’

एविएशन इंडस्ट्री में बोइंग 737 मैक्स की सबसे अधिक मांग है. यह इस विमान में हुआ इस तरह का पहला हादसा है. बोइंग 737 मैक्स जेट के पहले विमान की शुरुआत 2017 में हुई थी. मलेशिया की मैलिंडो एयर को इस विमान की पहली डिलीवरी मिली थी.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat