BREAKING

गिरिडीह : मिटता जा रहा है इरगा नदी का अस्तित्व

irga river raajdhanvar giridihराजधनवार(गिरिडीह) : नालों का गंदा पानी व कूड़े करकट के ढेर ने राजधनवार के ऐतिहासिक इरगा नदी को नाले में तब्दील कर दिया है. यूं कहें कि गंदगी और कचरों के ढेर से इरगा नदी अपना अस्तित्व खोता जा रहा है. विडंबना यह है की नदी में ही बनाए गए पेयजल कूप से राजधनवार में जलापूर्ति की जाती है. इस कुएं के इर्द-गिर्द गंदे जल के जमाव से कुएं का पानी प्रदूषित होता जा रहा है.




गौरतलब है कि घरों से निकलनेवाले गंदे पानी नाले से होकर नदी में ही बहायी जा रही है. साथ ही साथ लोगों के द्वारा कूड़ा-करकट भी नदी के किनारे ही डंप कर दिया जा रहा है. ऐसे में इस नदी में अब बालू की जगह घास फूस व गंदगी दिखाई देने लगा है. जहां कुछ वर्ष पहले इस नदी में साफ पानी की कल-कल धाराएं बहती थी. वहां आज गंदे नाले का पानी बह रहा है. अगर इस दिशा में कोई ठोस पहल नहीं की गई तो इस ऐतिहासिक नदी का अस्तित्व ही समाप्त हो जाएगा.



WhatsApp chat Live Chat