डीआरडीए इंजीनियर की हत्या मामले में शूटर समेत जिप सदस्‍य शैलू गिरफ्तार

पलामू : मेदिनीनगर शहर थाना क्षेत्र के नावाटोली में 26 अक्टूबर को डीआरडीए के तकनीकी पदाधिकारी सुधीर कुमार रौशन की गोली मार कर की गई हत्या मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. इस मामले में पुलिस ने गोली मारने वाले शूटर जितेंद्र कुमार सिंह समेत चैनपुर पूर्वी के जिप सदस्य शैलेंद्र कुमार चंद्रवंशी उर्फ शैलू को गिरफ्तार किया है. इनके पास से पुलिस ने एक देशी पिस्तौल व गोली बरामद किया गया है.

क्‍या है मामला

पूरे मामले की जानकारी देते हुए एसपी इंद्रजीत महथा ने बताया कि 26 अक्टूबर को नवकेतन सिनेमा हॉल के पिछे रास्ते में सुबह के करीब आठ बजे डीआरडीए के अनुबंध इंजीनियर सुधीर कुमार रौशन की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी. शहर थाना में दर्ज हत्या के इस मामले में जिला पार्षद समेत पांच लोगों को नामदर्ज किया था. मामले का उद्भेदन एवं अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीम गठित की गई थी. अनुसंधान के क्रम में शूटर सह कुख्यात अपराधी जितेंद्र कुमार सिंह को बीसफुट्टा के पास से पिस्तौल और गोली के साथ गिरफ्तार किया गया.




इंजीनियर का शैलू के ससुराल वालों के साथ चल रहा था विवाद

एसपी ने बताया कि पकड़े गए जितेंद्र ने अपना अपराध स्वीकार करते हुए पुलिस को बताया कि इंजीनियर सुधीर कुमार रौशन का विवाद शैलेंद्र कुमार चंद्रवंशी उर्फ शैलू के ससुराल वालों के साथ चल रहा था. एसपी ने बताया कि अपने ससुर की ओर से शैलू ने अपराधी जितेंद्र सिंह को सुधीर कुमार की हत्या के लिए 50 हजार रुपये की सुपारी दी थी. शैलू ने जितेंद्र को सुधीर के गतिविधियों की पूरी जानकारी दी थी. एसपी के अनुसार सुपारी लेने के बाद अपराधी जितेंद्र ने अपने एक अन्य साथी अपराधी आशिष कुमार उर्फ नमी के साथ मिलकर सुधीर कुमार रौशन की उस समय गोली मार कर हत्या कर दी जब वे अपने बच्चे को स्कूल छोड़कर घर वापस लौट रहे थे.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat