खदानों की नीलामी से झारखण्ड सरकार हो रही मालामाल, मिली साढ़े 11 हजार करोड़ रुपए की सौगात

mines auction in jharkhandरांची: झारखण्ड सरकार ने कल लौह अयस्क खदानों की नीलामी करवाई. इस नीलामी के बदले सरकार को 11,536 करोड़ रुपयों का फायदा होगा. नीलामी पश्चिम सिंहभूम के करमपदा स्थित खदानों की हुई. अब अगले 50 सालों तक इन खदानों के मालिक साउथ वेस्ट माइनिंग कंपनी होंगे. इस नीलामी में कई बड़े कंपनी शामिल थे.

इस नीलामी में टाटा स्टील, रुंगटा माइंस, एस्सेल माइंस, वेदांता, फर्मेटो जैसी कंपनियां भी शामिल थीं. लेकिन सभी को पछाड़ते हुए साउथ वेस्ट माइनिंग कंपनी ने 89 प्रतिशत अधिक बोली लगा इस डील को क्रैक किया.




ये खदानें 111 हेक्टेयर में फैली हुई है. जिनमें 38.5 मिलियन टन लौह अयस्क मौजूद है. यहां मौजूद अयस्क की कीमत करीब 4 हजार रुपए प्रति टन है. इस नीलामी से झारखण्ड को साढ़े 11 हजार करोड़ रुपए का फायदा पहुंचेगा.

इस नीलामी से पहले झारखण्ड सरकार ने तमाड़ में सोना खदान की नीलामी भी की थी. इसके अलावा पश्चिम सिंहभूम में ही स्थित एक और सोने की खदान की भी नीलामी की थी. फिलहाल झारखण्ड सरकार पलामू जिले में मौजूद ग्रेफाईट और क्वार्टज़ के खदानों की नीलामी की भी तैयारी कर रही है.





WhatsApp chat Live Chat