शिक्षकों व पत्रकारों पर लाठी चार्ज की घटना की जेविएम ने की न्यायायिक जांच की मांग

रांची : झारखंड स्थापना दिवस के मौके पर राज्य की रघुवर दास सरकार द्वारा बांटे गए नियुक्ति पत्र को लेकर जेवीएम के प्रधान महासचिव प्रदीप यादव ने सवाल खड़े किए हैं. प्रदीप यादव ने दस्तावेज के आधार पर अनारक्षित पदों पर उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, बिहार और मध्य प्रदेश के 76 प्रतिशत अभ्यर्थियों का चयन होने का दावा किया है. वहीं आरक्षित पदों पर भी दूसरे राज्यों के अभ्यर्थियों को नियुक्ति होने पर जेवीएम ने सवाल खड़े किए हैं.




जेवीएम के प्रधान महासचिव प्रदीप यादव ने पारा शिक्षकों और पत्रकारों पर लाठी चार्ज की घटना का न्यायायिक जांच की मांग की है. उन्होंने कहा है कि सरकार तुगलकी फरमान और लाठी-डंडों से हक-अधिकार की लड़ाई को दबाना चाहती है.

 

 





Loading...
WhatsApp chat Live Chat