कोहराम का तीन दिनों का पुलिस रिमांड समाप्त, कई नामों का हुआ खुलासा

Koharam three-day police remand ends reveals many namesहजारीबाग: टीपीसी उग्रवादी संगठन के गिरफ्तार हार्डकोर नक्सली कोहराम गंझू को हजारीबाग पुलिस ने पूछताछ के लिए तीन दिनों के रिमांड पर लिया था. रिमांड खत्म हो गया और पुलिस ने वापस उसे लोकनायक जयप्रकाश नारायण केंद्रीय कारा भेज दिया. इन तीन दिनों में पुलिस ने उससे कई अहम जानकारियां ली है. सबसे अहम बात यह पता चला है कि इसके तालुकात कुछ ऐसे सफेदपोश से थे जिसकी पहुंच बहुत ही ऊपर तक थी. वहीं पुलिस को उनके सहयोगियों के भी बारे में जानकारियां हासिल हुई है.

कुछ ऐसे लोग के नाम का खुलासा भी हुआ है जो अब संगठन चला रहे हैं. रिमांड के दौरान पुलिस हजारीबाग में हुई हत्याओं और अपहरण के मामले में उससे पूछताछ की है. पुलिस को लेवी से वसूले हुए पैसों के निवेश के भी कुछ क्लू मिले हैं. पुलिस इस पुरे मामले को जोड़ कर देख रही है. हजारीबाग के एसपी मयूर पटेल ने कहा कि सत्यापन के बाद मामले को लेकर कार्रवाई भी की जाएगी.




 

टीपीसी उग्रवादी संगठन में कोहराम गंझू की पहचान द्वितीय श्रेणी के सुप्रीमो के रूप में है. कोहराम  को हजारीबाग के कटकमदाग थाना क्षेत्र स्थित विष्णु पुरी गली नंबर 3 से 12 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था जब वह अपनी पत्नी के साथ तीज का त्योहार मनाने आया था. पुलिस ने उसके पास से 20 लाख नकद, 2 लैपटॉप, 4 मोबाइल, हथियार, 3 ईयर फ़ोन भी बरामद किया था. कोहराम गंझू पर जिले के कटकमसांडी, उरीमारी, बड़कागांव, बरही, चौपारण सहित अन्य थानों में हत्या, लेवी वसूलने, अपहरण के मामले दर्ज हैं.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat