NEWS11

नदी में बालू का घेरा बनाकर पानी लेने के लिए विवश बुण्डू की महिलाएं

ज्योत्सना

खूंटी : आज हम बात करने जा रहे हैं खूंटी लोकसभा के बुण्डू इलाके की. प्रखंड मुख्यालय से महज ढाई से तीन किलोमीटर की दूरी पर बसा बारेडीह गांव, आबादी लगभग 2000, मतदाता 1300, लेकिन आज भी 70 साल वाली समस्याएं बरकरार है. मतदान सम्पन्न हो गया, नेता आये और चले गए, लोगों ने जमकर मतदान किया. इसी उम्मीद में कि शायद नई सरकार बने तो कम से कम पीने के पानी का जुगाड़ हो जाएगा.

आज भी यहां की महिलाएं डेकची, बाल्टी और प्लेट लेकर आधा किलोमीटर दूर कांची नदी जाती हैं. नदी में पानी कम है, बावजूद महिलाएं तत्काल नदी में बालू का घेरा बनाकर छोटे-छोटे गड्ढे बनाती हैं, फिर जब पानी जमा हो जाता है तब थोड़ी देर पानी के साफ होने का इंतजार करती हैं. तब प्लेट से थोड़ा-थोड़ा पानी उलछा कर डेकची में भरती है. महिलाओं के पानी भरने का यह रूटीन हर मौसम में चलता है. दिक्कतों के साथ पानी का जुगाड़ करना अब इनकी दिनचर्या बन गयी है. गांव में चापाकल लगे हैं, लेकिन कई चापाकल खराब पड़े हैं. एक लघु ग्रामीण जलापूर्ति योजना से बना जलमीनार वर्षों से खराब पड़ा है.

ग्रामीण न्यूज11 के पहुंचने पर उम्मीद करते हैं कि शायद हमारे बिगड़े चापाकल बना दिये जायेंगे. न्यूज़11 की संवाददाता ने जब उन महिलाओं से बात की तो महिलाओं का दर्द छलक गया. दिन की तपती दुपहरी में भी बुजुर्ग महिलाएं नदी से पानी छान-छान कर घर के जरूरी काम निपटाती हैं. सरकार से गांव की महिलाएं उम्मीद भी करती हैं कि शायद अब 70 साल वाली स्थिति में कुछ बदलाव आए.

Related posts

अंधविश्‍वास में रिश्‍ते का कत्‍ल, अपने ही भतीजे ने डायन बताकर महिला को टांगी से काट डाला

Rajesh

50 पेटी अवैध शराब जब्‍त, बिहार ले जाने की थी योजना

Rajesh

जेटली के निधन से मैं बहुत दुखी हूं, पार्टी ने एक अभिन्न सदस्य को खो दिया है : रघुवर दास

Sumeet Roy

BIG BREAKING : तीन वर्षीय बच्ची की पीटकर हत्या, CRPF और मनिका थाना पुलिस पर आरोप

Sumeet Roy

BIG BREAKING : नहीं रहे पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली, एम्स में लम्बी बिमारी के बाद हुआ निधन

Sumeet Roy

ऑफिस-ऑफिस फेम मनोज पाहवा पत्नी एक्ट्रेस सीमा पाहवा के साथ पहुंचे रांची

Sumeet Roy
WhatsApp chat Live Chat