गुमला: 8 साल बाद दुष्कर्मी को उम्रकैद, रेप से पैदा हुआ बेटे के सामने गया जेल  

Life Imprisonment to rapist after 8 yearsगुमला: कानून की लंबी लड़ाई लड़ने के बाद गुमला की एक रेप पीड़िता को इंसाफ मिला. आरोपी को उम्रकैद की सजा सुनाई गई. न्याय मिलने में समय तो लगा लेकिन जीत कानून की हुई. आरोपी को जेल भेज दिया गया है. दुष्कर्म से पैदा हुए बेटे के सामने ही दुष्कर्मी को जेल भेजा गया.

गुमला के पलामू के घाघरा ब्लॉक के गम्हरिया गांव निवासी रवीन्द्र उरांव ने गांव की ही एक नाबालिग के साथ दो साल तक दुष्कर्म किया. आठ साल पहले होली के दिन आरोपी ने पीड़िता के साथ दुष्कर्म किया था. इसके बाद पीड़िता की मानसिक स्थिति खराब हो गई थी. जिसके बाद कई बार आरोपी ने डरा-धमका के उसके साथ रेप किया. 2009 में जब वो गर्भवती हो गई तो उसे धोखे से गर्भपात की दवाई खिला दी. इसके बाद शादी का झांसा देकर उसके साथ फिर से संबंध बनाए.




2011 में जब लड़की फिर से गर्भवती हो गई, तो उसनें शादी का दवाब डाला. इस बार जब आरोपी ने मना किया तो लड़की ने पंचायत में शिकायत कर दी. तब तो लड़का मान गया लेकिन फिर मुकर गया. जिसके बाद पीड़िता ने कोर्ट की शरण ली. अब पीड़िता का बेटा 6 साल का हो चुका है.

कोर्ट ने रवीन्द्र को सश्रम आजीवन कारावास की सजा सुनाई है. साथ ही 20 हजार का जुर्माना भी लगाया है. जुर्माना न भरने पर 6 महीने अतिरिक्त जेल की सजा भुगतनी होगी.





WhatsApp chat Live Chat