मोदी सरकार के 36 राफेल का सौदा पूर्व के सौदे से बेहतर- वायुसेना उप प्रमुख

Modi government 36-Rafael deal better former deal Deputy Chief Air-Forceनई दिल्ली: राफेल डील को लेकर जारी सियासी घमासान के बीच वायुसेना के उप-प्रमुख रघुनाथ नांबियार ने मौजूदा सरकार की राफेल डील को सही ठहराया है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार का 36 राफेल विमान सौदा, 2008 में किए गए 126 विमानों के सौदे से कहीं बेहतर है. उन्होंने कहा कि लोगों को इसके बारे में गलत जानकारी दी जा रही है. नांबियार ने पिछले हफ्ते फ्रांस में राफेल विमान को प्रायोगिक आधार पर उड़ाया था.

उन्होंने कहा कि हमने छह सिद्धांतों पर इसे परखा. यह हमारी सभी जरूरतों को पूरा करता है. उन्होंने कहा कि हमारे विचार से यह तकनिकी रूप से अधिक सक्षम होने के साथ-साथ व्यापारिक कसौटी पर भी बेहतर है. एक सवाल के जवाब में वायुसेना के अफसर ने कहा कि व्यापारिक स्संझौता डिप्टी चीफ ऑफ़ एयर स्टाफ के नेतृत्व में किया गया था. इस पर करीब 14 महीनों तक बातचीत चली थी. पैकेज को लेकर सभी निर्देशों का पालन किया गया है. इसके तहत बेहतर कीमत, बेहतर मेंटेनेंस की शर्तें, जल्द और समय पर विमानों की आपूर्ति और संचालन व क्रियान्वयन पर ध्यान दिया गया था.




विपक्ष के आरोपों को लेकर पूछे गए सवाल पर वायु सेना के उपप्रमुख ने कहा कि मेरा मानना है कि लोगों को गलत जानकारी दी जा रही है. ऐसा कुछ नहीं है कि एक पक्ष को 30,000 करोड़ रूपए जा रहे हैं. गौरतलब है कि इन विवादों के बीच फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने राफेल डील पर सीधा जवाब देने से परहेज किया था और कहा था कि जब भारत और फ्रांस के बीच सौदे पर हस्ताक्षर हुए थे, तब वह सत्ता में नहीं थे.





WhatsApp chat Live Chat