NEWS11

Business National

मोदी सरकार सबसे सस्‍ता बेच रही है सोना, जल्‍दी खरीदिए

नई दिल्‍ली : इस त्योहारी सीजन में अगर आप सोना खरीदना चाहते हैं, तो मोदी सरकार आपको सोना खरीदने के लिए मौका दे रही है. इस फेस्टिव सीजन में मोदी सरकार ने सोने के प्रति लोगों के बढ़ते रुझान को देखते हुए गोल्ड बांड योजना की शुरुआत की है. सरकार की 2018-19 के लिए ये स्वर्ण बांड योजना फरवरी तक 5 किस्तों में चलाएगी.

यह बांड 19 अक्टूबर तक के लिए खुला है और बांड का सर्टिफिकेट 23 अक्टूबर को जारी होगा. गौर करने वाली बात यह है कि गोल्ड बांड का इश्यू प्राइस सोने के मौजूदा बाजार से करीब 3 फीसदी नीचे है. क्योंकि ऑनलाइन पेमेंट पर 50 रुपये का भी छूट मिल रही है. रिजर्व बैंक ने कहा कि तय कार्यक्रम के तहत सरकारी स्वर्ण बांड योजना अक्तूबर 2018 से फरवरी 2019 तक हर महीने जारी की जाएगी.

इन जगहों पर मिलेगा सोना

गोल्‍ड बॉन्‍ड की बिक्री बैंकों, चुनिंदा डाकघरों एवं शेयर बाजारों नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज एवं बीएसई लिमिटेड के जरिये की जायेगी. योजना का पहला चरण निवेश के लिए 15 अक्टूबर को खुलेगा और 19 अक्टूबर को बंद हो जायेगा. तो वहीं बॉन्‍ड 23 अक्टूबर को जारी किया जायेगा. निवेश योजना का अगला चरण 5 नवंबर को खुलेगा और 9 नवंबर को बंद होगा. इस बॉन्ड में निवेशकों को प्रति यूनिट गोल्ड में निवेश का मौका मिलता है, जिसकी कीमत बुलियन के बाजार के मूल्य से जुड़ी होती है. इस बांड में निवेशकों को कम-से-कम आठ सालों के लिए निवेश करना होगा.

टैक्‍स में मिलेगा छूट

हालांकि निवेशकों को 5वें, छठे और सातवें वर्ष में इसे भुनाने का मौका मिलता है. इसमें निवेश के लिए कम-से-कम एक ग्राम और अधिकतम 4 किलो तक सोना खरीदा जा सकता है. इस योजना को 2015 में शुरू किया गया था, जिसका मकसद सोने की भौतिक मांग में कमी लाना है. साथ ही इस बांड में निवेश करने पर टैक्स में भी छूट मिलती है.

Related posts

एक्जिट पोल वास्तविक परिणाम नहीं होते : उपराष्ट्रपति

Manoj Singh

एमेजन ने भारत में लॉन्च किया फ्लाइट बुकिंग सर्विस

Sanjeev

फूलन देवी की कहानी अब वेब सीरीज के जरिए प्रस्‍तुत की जाएगी, बनेंगे 20 एपिसोड

Manoj Singh

सैमसंग ने अपने फोल्डेबल फोन के डिजाइन को किया ठीक

Sanjeev

ऑडी ने A4 फेसलिफ्ट को फिर से किया अपडेट, मिलेंगे ये नए फीचर

Sanjeev

हमें डर है कि मतदान खत्म होने के बाद बंगाल में TMC का शुरु हो सकता है नरसंहार : रक्षा मंत्री

Pawan
WhatsApp chat Live Chat