NEWS11

Jharkhand National Ranchi

चार जून को देश में मानसून देगा दस्‍तक, जानिये झारखंड में कब पहुंचेगा मानसून

नई दिल्‍ली/रांची : गर्मी से परेशान लोगों के लिए राहत की खबर है. जून के पहले हफ्ते में ही भारत में मानसून की दस्तक होने वाली है. वहीं, दिल्ली एनसीआर में 29 जून से बारिश के आसार बन रहे हैं. मौसम की जानकारी देने वाली संस्था स्काईमेट वेदर सर्विस ने सेक्टर-125 स्थित स्काइमेट कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान यह जानकारी दी. स्काईमेट ने 2019 में 93 प्रतिशत बारिश की संभावना जताई है. मौसम के पूर्वानुमान के अनुसार इस साल भारतीय उप महाद्वीप में मानसून शुरुआती दौर में थोड़ा कमजोर रहेगा.

स्काईमेट के वैज्ञानिकों के अनुसार चार जून से भारत में मानसून की दस्तक हो सकती है. जिसका देश के अलग-अलग हिस्सों में अलग-अलग असर दिखाई देगा. भारत में मानसून सबसे पहले अंडमान एवं निकोबार दीप समूह में दस्तक देता है. यहां 22 मई से इसका असर दिखाई देने लगेगा. इसके बाद चार जून से केरल में मानसून का असर दिखाई देगा. वहीं दिल्ली एनसीआर में 29 जून के करीब यह प्रभावी होगा.

स्काईमेट के एमडी जतिन सिंह के अनुसार 2019 में मानसून का सभी क्षेत्रों में कमजोर प्रदर्शन दिखेगा. पूर्वी और पूर्वोत्तर भारत तथा मध्य भारत में कम बारिश की आशंका है. जबकि उत्तर पश्चिम और दक्षिण भारत में स्थिति बेहतर होगी. इस साल दिल्ली- एनसीआर, पंजाब, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, चंडीगढ़ में मानसून के सामान्य रहने की संभावना है. जिसके चलते लोगों को गर्मी से कुछ राहत मिलने के आसार है. मानसून की बारिश का असर जून और जुलाई में अधिक दिखेगा. दिल्ली-एनसीआर में 29 जून के करीब मानसून की दस्तक होगी. जिसके बाद लोगों को गर्मी से राहत के आसार हैं. वहीं इस साल महाराष्ट्र, विदर्भ, तमिलनाडु, कर्नाटक, झारखंड, बिहार, पश्चिम बंगाल में औसत से कम मानसून रहने की संभावना है.

20 जून तक झारखंड पहुंचेगा मानसून

स्‍काइमेट के अनुसार चार जून को केरल में मानसून आने के संकेत मिले हैं. इस हिसाब से मानसून 20 जून को झारखंड पहुंचेगा. आम तौर पर केरल से झारखंड मानसून के आने में 15 दिन लगते हैं. स्‍काइमेट ने इस बार झारखंड, बिहार और बंगाल में सामान्‍य से करीब आठ से 10 फीसदी कम बारिश की अनुमान जताया गया है. वैसे, भारतीय मौसम विभाग ने मानसून पूर्वानुमान को लेकर अभी कोई तिथि जारी नहीं किया है. एयरपोर्ट स्थित मौसम केंद्र के निदेशक एसबी कोटाल के अनुसार मानसून के संबंध में अभी कोई नहीं मिली है.

मौसम को लेकर निम्न पूर्वानुमान हैं
  • अत्यधिक बारिश की संभावना 0 प्रतिशत है.
  • सामान्य से अधिक बारिश की संभावना 0 प्रतिशत है.
  • 30 प्रतिशत संभावना सामान्य बारिश की है.
  • 55 प्रतिशत संभावना सामान्य से कम बारिश की है.
  • 15 प्रतिशत संभावना सूखे की है.

Related posts

रिम्‍स में इलाजरत छात्र की मौत, परिजनों ने डॉक्‍टरों पर लगाया लापरवाही का आरोप

Rajesh

खूंटी में छऊ नृत्य पार्टी से भरा ट्रक पलटा, एक दर्जन से अधिक घायल, तीन गंभीर

Rajesh

अल्‍पसंख्‍यकों का विश्‍वास जीतने में जुटा एनडीए, सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास का दिया नारा

Rajesh

मुसीबत की घड़ी में जब अपनों ने छोड़ा साथ तो अल्‍लाह का बंदा बना सहारा (देखें वीडियो)

Rajesh

शांति बहाली के लिए आतंकवाद से मुक्त वातावरण आवश्यक : मोदी

Rajesh

दिल्‍ली से वापस लौटे सीएम रघुवर दास, कार्यकर्ताओं ने‍ किया जोरदार स्‍वागत

Rajesh