गुमला में नक्‍सलियों ने खेली खून की होली, गोली मारकर दो की हत्‍या, दो गंभीर

गुमला में नक्‍सलियों ने खेली खून की होलीगुमला : नक्सलियों ने खेली खून की होली. पूरे इलाके में दहशत का माहौल. गुमला जिले के कामडारा थाना क्षेत्र के टूरंडु गांव में दो लोगों की पीएलएफआई नक्सलियों ने गोली मारकर हत्या कर दी. जिससे घटनास्थल पर ही दोनों की मौत हो गयी. वहीं दो लोग गंभीर रूप से घायल हैं, जिसमें एक महिला शामिल है. घायल का रांची के एक निजी अस्पताल में इलाज कराया जा रहा है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक रामविलास गोप अपने घर में अपने मित्र लक्ष्मण लोहरा के साथ खाना खा रहा था, तभी  वर्दीधरी नक्सली संगठन पीएलएफआई ने घर में घुसा और घर खुलवाकर रामविलास गोप एवं लक्ष्मण लोहरा को गोली मार दी, जिससे मौके पर ही दोनों की मौत हो गई. वहीं रामविलास गोप की पत्नी लीलावती देवी एवं उसके 20 वर्षीय पुत्र तुलसी कुमार गोप को भी गोली मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया, जिसका इलाज  रांची के एक निजी अस्पताल में चल रहा है.

घटना के संबंध में बताया जाता है कि रामविलास गोप ठेकेदारी का काम करता था. वहीं लक्ष्मण लोहरा शिवालय कंपनी में काम करता था. घटना के पीछे का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है, परंतु बताया जाता है कि लोकसभा चुनाव को लेकर नक्सलियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज करने के इरादे से इस तरह की घटना को अंजाम दिया है.

गुमला जिले का कामडारा क्षेत्र पीएलएफआई का गढ़ माना जाता है, मगर कुछ दिनों से पुलिस ने पीएलएफआई उग्रवादियों के विरुद्ध अभियान चलाया, जिसके कारण पीएलएफआई की सक्रियता कम हो गई थी. अपनी उपस्थिति दर्ज कराने के लिए   इस तरह की घटना को अंजाम दिया है. लोकसभा चुनाव में अपनी उपस्थिति दर्ज करने के लिए तथा क्षेत्र में लेवी वसूलने के लिए इस तरह की घटना को अंजाम दिया है. ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि रामविलास गोप ठेकेदारी का काम करता था, इसमें लेवी की मांग का मामला हो सकता है. मगर इस संबंध में ग्रामीण और परिजन कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं.

वहीं मृतक की घायल पत्नी ने बताया कि हमलोग अबीर खेल कर घर में घुसे ही थे, तभी नक्सलियों ने घर में घुस कर अचानक गोली चलाना शुरू कर दिया, जिसमें मेरे पति रामविलास गोप व लक्ष्मण लोहरा की घटना स्थल पर मौत हो गयी, जबकि मैं मेरे पुत्र तुलसी कुमार गोप गंभीर रूप से घायल हो गए. परिजनों ने भी बताया कि वह लोग पुराना घर में रहते थे, जब घटना घटने के बात पहुंचे तो देखा कि उनकी मौत हो गयी, जिससे काफी भयभीत हैं. इस संबंध में पुलिस पदाधिकारी का कहना है कि नक्सलियों के द्वारा इस घटना को अंजाम दिया गया है. लेवी का मामला हो सकता है. वहीं पुलिस पदाधिकारी मामले में अभी कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं.



Loading...
WhatsApp chat Live Chat