BREAKING

गढ़वा : निगरानी समिति की बैठक, गलत तरीके से बालू पर रखी जा रही है नजर

nigrani-samiti-baithak balu gadhvaगढ़वा : निगरानी समिति का कहना है कि बालू पर नजर ग़लत तरीक़े से रखी जा रही है. गढ़वा में 25 जून को निगरानी समिति की बैठक हुई जिसमें विकास के और मुद्दों की समीक्षा किए जाने के साथ-साथ जिस विषय को ले कर सबसे ज़्यादा चर्चा हुई वह है बालू.

जिला समाहरणालय के सभाकक्ष में निगरानी समिति की बैठक हुई जिसमें सांसद और विधायक के साथ-साथ जिला प्रशासन के अधिकारी भी मौजूद रहे. इस बैठक में जिले में कार्यान्वित हो रही और होने वाली योजनाओं पर चर्चा से पहले कुछ देर ज़िरह बालू को ले कर हुई. इसका कारण यह है कि बालू उठाव जिले में बंद है लेकिन प्रशासन और पुलिस विभाग द्वारा उन ट्रैक्टरों को भी पकड़ लिया जा रहा है जो पीएम आवास और शौचालय निर्माण के बाबत बालू ले कर जा रहे हैं.




नतीजा यह हो रहा है कि दोनों महत्वपूर्ण योजनाएं प्रभावित हो रही हैं, इस तरह के कार्रवाई से बिफरे गढ़वा विधायक सतेंद्र नाथ तिवारी ने कहा कि एक तरफ प्रशासन द्वारा आवास और शौचालय के लाभुक समेत मुखिया पर कार्रवाई किया जा रहा है. दूसरी ओर उसी आवास और शौचालय को बनाने हेतु ले जाये जा रहे बालू को गाड़ी सहित पकड़ लिया जा रहा है. यह सरासर गलत है, और कहीं से भी बर्दाश्त योग्य नहीं है.

बैठक में प्रमुख रूप से शामिल हुए वन विकास निगम के अध्यक्ष सह डालटनगंज-भंडरिया विधायक आलोक चौरसिया ने भी इस मसले को गंभीरता से लेते हुए कहा कि अपना बालू यूपी और बिहार जा रहा है यह तो गलत है ही उससे भी गलत है महत्वपूर्ण योजनाओं के लिए ले जाये जा रहे बालू को रोकना. उन्होंने कहा कि इस विषय में वह मुख्यमंत्री से बात करेंगें.

 उधर बैठक की अध्यक्षता कर रहे सांसद ने भी प्रशासन द्वारा बालू के प्रति अपनाए जा रहे रवैये के विरुद्ध ख़ासी नाराज़गी व्यक्त की है. उन्होंने कहा कि अवैध बालू उठाव गलत है पर आवास और शौचालय के लिए बालू ले जाना कहीं से भी अनुचित नहीं है. फिर भी पुलिस प्रशासन द्वारा वैसी गाड़ियों को पकड़ लिया जा रहा है, जिससे योजनाएं पूरी तरह प्रभावित हो रही हैं.



WhatsApp chat Live Chat