नहीं रहे जमशेदपुर पूर्वी के पूर्व विधायक दीनानाथ पांडेय, कोल्‍हान की राजनीति के एक युग का अंत

जमशेदपुर : पूर्वी सिंहभूम जिले के जमशेदपुर पूर्वी विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक दीनानाथ पांडेय का शुक्रवार की सुबह निधन हो गया. उनके निधन से कोल्हान की राजनीति के एक युग का अवसान हो गया. दीना बाबा के रूप में सुपरिचित इस वयोवृद्ध नेता ने करीब 9 बजे टाटा मुख्य अस्पताल (टीएमएच) में अंतिम सांस ली.

उनके निधन की खबर फैलते ही उनके चाहनेवालों का जुटान टीएमएच में होने लगा. सभी की आंखें नम थी और जुबां पर दीना बाबा से जुड़ी यादें. दीनानाथ पांडेय ने 1977 से 1980,1980 से 1985 और 1990 से 1995 तक जमशेदपुर पूर्वी क्षेत्र का प्रतिनिधित्‍व विधानसभा में किया. 1995 में उन्हें टिकट से वंचित कर भाजपा ने रघुवर दास को टिकट दिया और वे चुनाव जीते. रघुवर दास अभी झारंखड के मुख्यमंत्री हैं. 1995 से वे लगातार जमशेदपुर पूर्वी सीट पर काबिज हैं. परिजनों ने बताया कि पिछले दिनों ज्यादा बीमार होने पर उन्हें टीएमएच में भर्ती कराया गया था.




भाजपा के बाद दीनानाथ पांडेय शिवसेना में चले गए. पार्टी ने उन्‍हें झारखंड प्रदेश की कमान सौंपी. शिवसेना के टिकट पर उन्होंने खुद भी विधानसभा चुनाव लड़ा. हालांकि, सफलता नहीं मिली. करीब 12 वर्षों तक शिवसेना में रहने के बाद 16 मार्च 2008 को उन्होंने शिवसेना के प्रदेश अध्यक्ष से त्यागपत्र दे दिया था. शिवसेना से नाता तोड़ने की वजह दीना बाबा ने पार्टी की क्षेत्रवाद और बिहारी विरोधी मुहिम को बताया था.



Loading...
WhatsApp chat Live Chat