NEWS11

Jharkhand National

झारखंड में शहरी बेघरों को ठंड से बचाने के लिए कोई योजना न होना दुर्भाग्यपूर्ण- SC

no plan save urban homeless cold Jharkhand SC

no plan save urban homeless cold Jharkhand SCनई दिल्ली : ठंड बढ़ने के साथ शहरी बेघरों के लिए झारखंड सरकार द्वारा कोई योजना नहीं बनाये जाने को सुप्रीम कोर्ट ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. साथ ही सरकार से जल्द से जल्द ठोस प्रबंध करने कि दिशा में प्रयास करने को कहा है.

जस्टिस मदन बी लोकूर की अध्यक्षता वाली एक पीठ को सूचित किया गया कि झारखंड और जम्मू-कश्मीर राज्य के अलावा अन्य सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों ने सर्दियों में शहरी बेघरों के लिए कार्य योजना को अंतिम रूप दे दिया है. पीठ ने जब इस बारे में झारखंड के वकील से पूछा तो उन्होंने कहा कि उन्हें आज ही निर्देश मिले हैं. उन्होंने अदालत से एक दिन का समय मांगा है. पीठ में न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता और न्यायमूर्ति हेमंत गुप्ता भी शामिल थे.

पीठ ने कहा कि ऐसा लगता है कि झारखंड सरकार के पास सर्दी के लिए कोई योजना नहीं है. यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है. हमें उम्मीद है कि झारखंड अगले कुछ दिनों एक योजना तैयार कर लेगा. ताकि शहरी बेघरों को सर्दी के मौसम की अनिश्चितताओं से बचाया जा सके.

जम्मू-कश्मीर के लिए पेश वकील ने कहा कि 2011 की जनगणना के अनुसार राज्य में शहरी बेघरों की संख्या करीब 250 है और उन्हें कंबल एवं अन्य सुविधाएं देने का प्रावधान कर दिया गया है. वकील ने कहा कि याचिकाकर्ता को अगले दो से तीन दिन में कार्य योजना प्रदान कर दी जाएगी.

Related posts

दहेज की खातिर जलायी गई पूजा की इलाज के दौरान मौत, आरोपियों की गिरफ्तारी में जुटी पुलिस

Manoj Singh

झारखंड में श्‍याम स्‍टील की हुई एंट्री, रांची के बाद धनबाद में भी शुरू

Sanjeev

मसलिया में भूकम्प के झटके से कच्‍चे मकानों में पड़ीं दरारें

Manoj Singh

रोटरी क्लब गिरिडीह ग्रेटर ने किया रक्तदान शिविर का आयोजन, 50 यूनिट रक्त संग्रह किया

Manoj Singh

लालू प्रसाद के इलाज में लगे रिम्‍स चिकित्सक परेशान, दो दिन से नहीं खा रहे हैं भोजन

Sanjeev

गोड्डा : मंदिर के बगल में शराबियों का जमावड़ा, आक्रोशित लोगों ने विरोध में निकाली रैली

Manoj Singh