जमशेदपुर: अब पालतू जानवरों पर भी देना पड़ेगा टैक्स, इस कारण लिया फैसला

now pay tax on pet animals जमशेदपुर: जेएनएसी अब शहर के पालतू जानवरों का भी हिसाब-किताब रखेगी. जानवर पालने वालों से भी जेएनएसी टैक्स वसूल करेगी. हालांकि, ये टैक्स मामूली होगा और इसके जरिए जेएनएसी पालतू जानवरों की निगरानी का प्रबंधन करेगी. पालतू जानवरों को टीका लगा कि नहीं. पालतू कुत्तों को रेबीज का इंजेक्शन लगाया गया या नहीं. जेएनएसी इस संबंध में पूरा ब्योरा रखेगी. इसके लिए शहर के लोगों को अपने पालतू जानवरों को जेएनएसी में रजिस्टर्ड कराना होगा.

रविन्द्र राय ने बाबूलाल पर ठोंका 10 करोड़ के मानहानि का मुकदमा




पंजीकरण की व्यवस्था के लिए जेएनएसी ऑनलाइन पोर्टल तैयार करा रही है. रजिस्टर्ड होने वाले पालतू जानवरों में बकरी, घोड़ा, कुत्ता, गाय, बैल, भैंस, ऊंट, हाथी आदि जानवर शामिल हैं. जमशेदपुर अक्षेस के बायलॉज में भी इसका जिक्र है कि अक्षेस को अपने इलाके के पालतू जानवरों का पंजीकरण करना है. इससे अक्षेस को ये पता रहेगा कि उसके इलाके में कितने पालतू जानवर हैं.

झारखण्ड: विधानसभा नहीं चलने से स्पीकर हुए आहत, कहा- गरिमा हुई तार-तार

इन दिनों ज्यादातर लोग कुत्ता पालते हैं. कभी-कभी लोग अपने पालतू कुत्तों को रेबीज इंजेक्शन नहीं लगवाते हैं. इससे इन कुत्तों के काटने से शहर में रेबीज फैलने की आशंका बनी रहती है. जेएनएसी अपने रजिस्टर्ड पालतू कुत्तों का पूरा ब्योरा रखेगी कि उसे इंजेक्शन लगाया गया है या नहीं. पालतू जानवर पालने वाले मालिकों से कितना कर लिया जाए इस पर अभी मंथन चल रहा है.

धनबाद: सुहागरात पर बीवी ने सुनाई प्रेमी की दास्तान, पति ने मोबाइल पर किया रिकॉर्ड





WhatsApp chat Live Chat