हजारीबाग: जिले में मिले मुगलकालीन चांदी के सिक्के, खेत में सालों से थे दफ़न

old silver coins found from farmers land हजारीबाग: जिले के केरेडारी प्रखंड का इलाका हमेशा से उग्रवाद के लिए जाना जाता रहा है. लेकिन इस बार मुगलकालीन असर्फी के लिए मशहूर हो रहा है. इसे आम बोल चाल की भाष में चांदी के सिक्के भी कहते हैं. इन दिनों इलाके में ये सिक्के सुर्खिया बटोर रहे है.

रांची: अब डेंगू, टीबी और मलेरिया होने पर तुरंत करें सरकार को सूचित, वर्ना जाना पड़ेगा जेल




जानकारी के मुताबिक़, मामला केरेडारी प्रखंड के पंचायत बारियातु का है. यहां स्व.सुखारी साव के खेत के बगल में एक मिट्टी के घड़े से मुगलकालीन चांदी के 45 पीस असर्फी मिली है. ये सिक्के सालों से जमीन में दफन थे. यह खबर इलाके में कौतूहल का विषय बना है.

लोहरदगा: 38 लाख में लगे सोलर प्लेट्स बेकार, सदर अस्पताल में मरीज परेशान

सिक्कों के साथ पाजेब और हाथ के कंगन भी मिले हैं. पुलिस ने घटना स्थल से मिले सारे असर्फी और अन्य चांदी के जेवर को कब्जे में ले लिया है. वैसे इलाके में इस तरह की भ्रांति है कि ये सिक्के शापित हैं. जिन्होंने भी इन सिक्कों को निकाला उसके परिवार के लोग बीमार पड़ गये हैं. इसके बाद वापस इन सिक्कों को वहां दफ़नाने से ही शांति मिलती है. मामला चाहे जो हो, लेकिन इन सिक्कों से इलाके की काफी चर्चा हो रही है.





WhatsApp chat Live Chat