सेव द चिल्ड्रन पर कार्यशाला आयोजित, बच्‍चों को प्रेरित करने की दी गई जानकारी

सिसई (गुमला) : सिसई प्रखण्ड बाल सखा और सेव द चिल्ड्रन संस्था गुमला के द्वारा एक दिवसीय बाल अभिव्यक्ति कार्यशाला का आयोजन भदौली पंचायत भवन के सभागार में किया गया. जिसका उद्घाटन जिला परिषद अध्यक्ष किरणमाला बाड़ा, प्रखंड विकास पदाधिकारी मनोरंजन कुमार एवं बाल कल्याण समिति गुमला के अध्यक्ष शंभू सिंह ने संयुक्त रुप से दीप प्रज्‍ज्‍वलित कर किया.

बाल कल्याण समिति के जिला अध्यक्ष शंभू सिंह ने संबोधित करते हुए कहा बाल सखा एक गैर सरकारी संस्था है. बाल सखा का मुख्य उद्देश्य सड़क पर कामकाजी बच्चे, विधि विवादित बच्चे एवं बाल व्यापार के शिकार बच्चों के साथ काम करना है. बाल सखा ऐसे बच्चों के पुनर्वास और उन्हें समाज के मुख्यधारा में जोड़ना और न्याय दिलाना है. जीप अध्यक्ष किरणमाला बाड़ा ने कहा कि बच्चों को भी जीवन जीने का अधिकार, सुरक्षा का अधिकार एवं सहभागिता का अधिकार मिलना चाहिए. यह काम बाल सखा और सेव द चिल्ड्रन संस्था का कार्य सराहनीय है.




प्रखंड विकास पदाधिकारी मनोरंजन कुमार ने कहा कि बाल सखा और सेव द चिल्ड्रन संस्था हमारे प्रखंड के 15 पंचायत के सभी राजस्व ग्राम में सक्रिय होकर कार्य कर रही है. इन पंचायत कैडरों का कार्य है कि बाल संरक्षण समिति को सक्रिय रूप से करते हुए ग्रामीणों को जागरूक करना है, ताकि कोई बच्चा अपने अधिकार से वंचित ना रह सके.

कार्यशाला में जिला बाल संरक्षण इकाई के पदाधिकारी बहन सरिता, सेव द चिल्ड्रन कार्यक्रम के पदाधिकारी दिव्या ज्योति तिग्गा, एसईसी कोऑर्डिनेटर सौम्या, बाल सखा के राज्य समन्वयक पियूष सेनगुप्ता, जिलाधिकारी बाल सखा के पदाधिकारी सुदर्शन कुमार बारिक, बीईओ अनंत कुमार महतो, महिला प्रसार पदाधिकारी सुषमा तिर्की सहित कई लोग उपस्थित थे.





Loading...
WhatsApp chat Live Chat