BREAKING

बोकारो में पकौड़ी बेचनेवाली महिला से आज बात करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

pakodi business pm modi khas batchitबोकारो : जब एक चाय बेचनेवाले से प्रधानमंत्री तक का सफर तय करनेवाले पीएम मोदी ने पकौड़ी बेचने कि बात कही तो इसपर देशभर में जमकर राजनिति हुई. विपक्ष ने पीएम मोदी के पकौड़ी बेचनेवाली बात को लेकर प्रधानमंत्री का खुब घेराव किया. लेकिन प्रधानमंत्री के इस पकौड़ी वाली बात को सच कर दिखाया है बोकारो की एक महिला सावित्री देवी ने जो पिछले दो सालों से पकौड़े बेचकर न सिर्फ अपना घर चला रही है बल्की बच्चों को भी पढ़ाने-लिखाने का काम कर रही हैं. अब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी खुद इस पकौड़ी  बेचनेवाली महिला से आज (12 जुलाई) को बात करेंगे. पेश है न्यूज़ 11 की खास बातचीत.

बोकारो  में पकौड़ी बेचनेवाली महिला से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बात करेंगे.  सावित्री देवी बांसतोड़ा गांव के बाजार में ठेला लगाती है और वह झारखंड स्टेट लाइवलीहुड प्रोमोशनल सोसाइटी के सखी मंडल से जुड़ी हुई हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकारी योजना के लाभुकों से बात कर फीडबैक ले रहे हैं. इसी क्रम में 12 जुलाई यानी कल बोकारो के सखी मंडल से जुड़ी महिलाओं से भी बात करेंगे.
सखी  मंडल से कर्ज लेकर शुरू किया बिज़नस

बोकारो के चंदनकियारी प्रखंड की बांसतोड़ा पंचायत के बांसतोड़ा गांव की सावित्री देवी से बात कर स्वावलंबन के क्षेत्र में सफलता की बात करेंगे. सावित्री देवी स्थानीय बाजार में ठेला लगा कर पकौड़ा बेचती है. सावित्री दो साल से दुकान लगा कर परिवार की आर्थिक स्थिति को मजबूत बनाने में सहयोग कर रही हैं. सावित्री देवी ने बताया कि जब वह शादी के बाद ससुराल आई थी तो घर की हालत ठीक नहीं थी. वह झारखंड स्टेट लाइवलीहुड प्रमोशन सोसाइटी (जेएसएलपीएस) की सखी मंडल से जुड़ी और दो साल पहले उन्होंने सखी मंडल से कर्ज लेकर कारोबार शुरू किया. सावित्री देवी का पकौड़ा बेचने का मेहनत रंग लाया और आज वह अच्छा कमा रही हैं. जिसके फलस्वरूप उसके घर का खर्च चलने के साथ-साथ बच्चों को भी पढ़ा पा रही हैं.




दो साल से कर रही  ठेला लगाने का काम

सावित्री देवी ने बताया कि 2 साल से हम ठेला लगा कर पकौड़ी बेचने का काम कर रहे हैं. पहले हम लोगों की स्थिति काफी खराब थी. हमने महिला समूह से लोन लेकर ठेला खरीदे और पकौड़ी बेचने लगे. सावित्री देवी ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हमसे बात करेंगे हमको बहुत खुशी है. यह दिन में तारे दिखने जैसा है. मुझे मन में इतनी खुशी हो रही है कि हम कुछ बोल नहीं पा रहे हैं. मुझे बस ऐसा लग रहा है कि 12 तारीख जल्दी से आ जाए  और मैं प्रधानमंत्री जी से बात कर सकूं. आज हम इस मुकाम पर पहुंचे हैं यह हमारे महिला समूह की देन है और हमारे घर वालों का सपोर्ट है, जिन्होंने मुझे घर से बाहर कदम रखने दिया और हर समय हमारा साथ दिया. हम कभी नहीं सोचते थे कि हम घर से बाहर निकल पाएंगे. हमको इतना मान सम्मान मिलेगा और हम प्रधानमंत्री से बात कर पाएंगे. मैं सभी महिलाओं से यह कहना चाहती हूं कि वह भी घर से बाहर निकलें और  दुनिया को बाहर से देखें. उन्हें भी मान-सम्मान मिलेगा जैसा मुझे मिल रहा है. वहीं सावित्री देवी के पति का कहना है कि बहुत खुशी की बात है कि प्रधानमंत्री हमारी पत्नी से बात करेंगे. इस पकौड़ी के ठेले से हम दोनों अपने परिवार का भरण पोषण करते हैं. और बच्चों की पढ़ाई-लिखाई भी करा पाते हैं.

ग्रामीण भी उत्साहित
वहीं  इस गांव के ग्रामीण भी काफी उत्साहित दिखे. सावित्री देवी के गांव में रहने वाले श्रीकांत ने कहा कि वह 2 साल से यहां पर यह ठेला लगाती हैं और काफी अच्छा पकौड़ी बनाती हैं. उनका व्यवहार भी बहुत अच्छा है और महिला समूह में भी यह बहुत अच्छा काम करती है. यह हमारे पंचायत के लिए गर्व की बात है और यह मोदी जी का देन है कि एक पकौड़ी बेचने वाली डायरेक्ट प्रधानमंत्री से बात करेगी. एक ग्रामीण मुस्तफा ने कहा कि यह बहुत बेस्ट महिला है और 2 साल से दुकान चलाती हैं. पकौड़ी बेचती है और आसपास की महिलाएं बेझिझक आकर यहां बड़े शौक से पकौड़ी खाती हैं. शाम के 3 बजे से लेकर रात के 9 बजे तक ठेला लगता है.  उन्होंने कहा कि यह काफी गर्व की बात है कि हमारे पंचायत और हमारे ग्राम की महिला नरेंद्र मोदी से बात करेगी. हम लोग तो चाह रहे हैं कि वह तारीख जल्द से जल्द आए ताकि हम सावित्री देवी को बात करते हुए टीवी पर देख पाएं.

तीन अन्य महिलाओं से भी पीएम करेंगे बात
सावित्री देवी के अलावा जेएसएलपीएस से जुड़ी तीन अन्य महिलाएं भी प्रधानमंत्री से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बात करेंगी.  जरीडीह प्रखंड स्थित कमलापुर गांव की रानी मिस्त्री जयंती देवी, चातमटांड़, अराजु पंचायत की रानी मिस्त्री गुड़िया देवी व कसमार प्रखंड के मुंगो गांव,  बगदा पंचायत की प्रिंटिंग का काम करनेवाली वसुंधरा देवी भी प्रधानमंत्री से बात करेंगी. वार्ता कैंप दो स्थित एनआइसी केंद्र में होगी.

प्रिंटिंग का काम करनेवाली वसुंधरा देवी ने बताया कि उसके घर कि हालत काफी खराब थी और इस समुह से जुडने के बाद घर कि स्थिति काफी मजबुत हुई है.



WhatsApp chat Live Chat