BREAKING

गुमला : सरकारी शराब दुकान पर माफियाओं का कब्ज़ा, प्रिंट प्राइस से ज्यादा लिए जा रहे हैं दाम

possession Mafia official liquor shopगुमला : जिले में कहने को तो सरकार के द्वारा शराब की बिक्री की जाती है. लेकिन हकीकत उल्टा है. सरकारी सराब की दूकान पर माफियाओं का कब्ज़ा है. यहां तक की सरकारी बोर्ड भी सही से नहीं टांगा गया है.

यहां पर शराब प्रिंट से ज्यादा मूल्यों पर दी जाती है तथा खरीदी गई शराब का रशीद भी नहीं दिया जाता है. वहीं ग्राहकों का आरोप है कि सरकारी शराब के दूकान में भी  नकली शराब दिया जाता है और प्रिंट मूल्य से ज्यादा कीमत ली जाती  है. इतना ही नहीं रशीद भी नहीं दिया जाता है. साथ ही सरकारी नियमों का पालन भी नही होता है. ग्राहकों का कहना है कि यहां नाबालिगों को भी शराब दिया जाता है. किसी भी ग्राहक को मात्रा से अधिक शराब मांगते ही उन्हें खुलेआम दे दिया जाता है.



इधर शराब  दूकान में तैनात कर्मचारी ने आरोपों का खंडन किया और कहा कि सरकार व जिला प्रशासन के द्वारा उन्हें सही सुविधा नहीं दी जा रही है. उनका कहना है कि मोबाइल के टोर्च को जलाकर काम करते हैं. बरसात में पानी दूकान में घूस जाता है. विभाग को शिकायत करने पर सामाधान नहीं किया जा रहा  है.



WhatsApp chat Live Chat