BREAKING

राष्ट्रपति की मिली मंजूरी, जम्मू-कश्मीर में लागू हुआ राज्यपाल शासन

New Delhi : जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक उथल-पुथल को खत्‍म करते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राज्यपाल शासन को मंजूरी दे दी है। मंगलवार को भाजपा ने महबूबा मुफ्ती सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया था। इसके बाद महबूबा मुफ्ती ने अपना इस्तीफा राज्यपाल एनएन वोहरा को सौंप दिया था। राज्यपाल ने राष्ट्रपति को अपनी रिपोर्ट भेजते हुए राज्य संविधान के अनुच्छेद 92 के तहत राज्यपाल शासन लागू करने की सिफारिश की है।

इसे भी पढ़ें – बच्चों की पिटाई का वीडियो पोस्ट करने का मामला : राहुल गांधी को नोटिस जारी, दस दिनों के अंदर मांगा जवाब




चार अप्रैल 2016 को महबूबा बनी थीं मुख्यमंत्री

दिसंबर, 2014 में हुए जम्मू-कश्मीर विधानसभा चुनाव के बाद एक मार्च, 2015 को गठबंधन सरकार बनी थी। तब मुफ्ती मुहम्मद सईद ने 12वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी। 7 जनवरी, 2016 को उनका निधन हो गया। इसके बाद 4 अप्रैल को महबूबा मुफ्ती मुख्यमंत्री बनी थीं। बता दें कि पीडीपी से नाता तोड़ने का एलान भाजपा महासचिव व जम्मू-कश्मीर के प्रभारी राम माधव ने किया था। इससे पहले पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को राज्य के सभी भाजपाई मंत्रियों की दिल्ली में आपात बैठक कर सियासी हालात की समीक्षा की थी। फिर पीएम नरेंद्र मोदी की सहमति से यह घोषणा की गई।

इसे भी पढ़ें – जमशेदपुर: थम नहीं रहा उग्र भीड़ का आतंक, अब लोगों ने पुलिस को दौड़ाकर पीटा

कश्मीर में संभव नहीं है बाहुबल की नीति

महबूबा ने कहा, ‘हमने ब़़डे विजन के साथ ब़़डी पार्टी भाजपा से गठबंधन किया था। तीन साल तक अनुच्छेद 370 और 35 ए को बचाए रखा। राज्य के 11 हजार नौजवानों के खिलाफ केस वापस लिया। कश्मीर में बाहुबल की नीति संभव नहीं है। हमारी कोशिशों के कारण संघर्ष विराम हुआ था। हम पाक व राज्य के लोगों से चर्चा के पक्ष में हैं।’

इसे भी पढ़ें – अब झारखण्ड पुलिस से बच नहीं पाएंगे साइबर अपराधी, लैब करेगा बेनकाब



WhatsApp chat Live Chat