रांची: मुख्यमंत्री रघुवर दास की जान को खतरा, आए माओवादियों के निशाने पर

raghuwar das life in dangerरांची: झारखण्ड में पुलिस ने भले ही माओवादियों की संख्या कम करने में सफलता पाई है, लकिन माओवादी संगठन अभी तक जड़ से खत्म नहीं हुए हैं. अब ख़ुफ़िया सूत्रों से जानकारी मिली है कि झारखण्ड के मुख्यमंत्री फिलहाल माओवादियों के टारगेट पर हैं. ऐसा सरकार द्वारा माओवादी संगठनों को खत्म करने के लिए चलाए जा रहे कार्यक्रमों के कारण है.

कोडरमा: बैट्री-तार-बल्ब-पेन से खेल रहे थे बच्चे, विस्फोट में हुए घायल

रांची: महंगाई से त्रस्त हुए लोग, दाल से लेकर चीनी तक की बढ़ी कीमतें




दरअसल, उत्तराखंड से देवेन्द्र चम्याल नाम के माओवादी को अरेस्ट किया गया था. उसनें ही पुलिस और ख़ुफ़िया एजेंसी को इस बात की जानकारी दी है. इसके बाद उत्तराखंड प्रशासन ने झारखण्ड सरकार को पत्र लिख मुख्यमंत्री की सुरक्षा और कड़ी कर देने की मांग की है.

 रांची: दोस्तों के साथ घूमने निकली थीं नाबालिग बहनें, सामूहिक दुष्कर्म की हुई शिकार

रांची: पिता की दूसरी शादी से नाखुश बेटे ने ली थी 3 जान, अब मिली फांसी की सजा

इसके बाद से झारखण्ड गृह विभाग में हलचल मच गई है. झारखण्ड पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है. मुख्यमंत्री की सुरक्षा पहले से ज्यादा सख्त कर दी गई है. बता दें कि उत्तराखंड में हिरासत में मौजूद देवेन्द्र चम्याल को नेपाल सीमा से अरेस्ट किया गया था. उसने पांच साल तक झारखण्ड में ही नक्सली परिक्षण लिया था. गुप्त सूचना के आधार पर माओवादी पुलिस के हत्थे चढ़ा.





WhatsApp chat Live Chat